गायत्री ज्ञान मंदिर का ज्ञान यज्ञ अभियान के अन्तर्गत में 382वाँ युगऋषि ऋषि वाङ्मय की स्थापना

 गायत्री ज्ञान मंदिर का ज्ञान यज्ञ अभियान के अन्तर्गत में 382वाँ युगऋषि ऋषि वाङ्मय की स्थापना



‘‘जीवन दर्शन की प्रेरणाएं हैं ऋषि साहित्य में, :उमानंद शर्मा


लखनऊ।गायत्री ज्ञान मंदिर इंदिरा नगर, लखनऊ के विचार क्रान्ति ज्ञान यज्ञ अभियान के अन्तर्गत ‘‘हिमालयन ग्लोबल एकेडमी, सीतापुर रोड़, बी.के.टी. लखनऊ’’ के संदर्भ पुस्तकालय में गायत्री परिवार के संस्थापक युगऋषि पं. श्रीराम शर्मा आचार्य द्वारा रचित सम्पूर्ण 79 खण्डों का 382वाँ ऋषि वांड़मय की स्थापना कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। उपरोक्त साहित्य गायत्री परिवार की सक्रीय कार्यकर्ता श्री हंस ने अपने पूर्वजों की स्मृति में तथा उमानंद शर्मा ने छात्र-छात्राओं एवं संकाय सदस्यों को अखण्ड ज्योति पत्रिका भेंट की। 

इस अवसर पर वाङ्मय स्थापना अभियान के मुख्य संयोजक उमानंद शर्मा ने कहा कि ‘‘ऋषि के वाङ्मय साहित्य में जीवन दर्शन की प्रेरणाएं है।’’ संस्था के चेयर मैन दिलीप सिंह बाफिला, श्रीमती ऊषा सिंह, इंजीनियरिंग के निदेशक डॉ. प्रितेश सक्सेना ने भी अपने विचार रखे। प्रधानाचार्या श्रीमती नीतू भट्ट ने धन्यवाद ज्ञापन व्यक्त किया।

इस अवसर पर उमानंद शर्मा, श्री हंस , श्रीमती ऊषा सिंह, जितेन्द्र सिंह एवं संस्था के चेयरमैन दिलीप सिंह बाफिला, इंजीनियरिंग के निदेशक डॉ. प्रितेश सक्सेना, प्रधाचार्या श्रीमती नीतू भट्ट, एवं विभागाध्यक्ष सहित छात्र-छात्रायें, संकाय सदस्य मौजूद थे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
विकास को 7 बार किस सांप ने काटा? सामने आई सच्चाई, अफसरों ने सुलझाई सच और झूठ की पहेली
चित्र
विप्लवी ने असिस्टेंट कमिश्नर बन कर जनपद का नाम किया रोशन
चित्र
असोथर के 45 शिक्षकों ने संकुल पद से दिया इस्तीफा, धरना प्रदर्शन करके सरकार विरोधी लगाए नारे
चित्र
छात्र शौर्य द्विवेदी ने कबाड़ी से बनाई इलेक्ट्रिक बाइक
चित्र
सरकारी राशन की दुकान बंद,धान लगा रहे कोटेदार, राशन लेने के लिए भटक रहे कार्ड धारक
चित्र