सन्दिग्ध अवस्था मे ज़हरीला पदार्थ खाने से युवती की हुई मौत
सन्दिग्ध अवस्था मे ज़हरीला पदार्थ खाने से युवती की हुई मौत
फतेहपुर। कल्यानपुर थानां क्षेत्र के मौहार गाँव मे एक युवती ने सन्दिग्ध अवस्था मे ज़हरीला पदार्थ खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का प्रयास किया। जिसकी जानकारी परिजनों को हुई तो तुरन्त उसको इलाज के लिए सरकारी 108 एम्बुलेन्स से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे।जानकारी के अनुसार हुसैनगंज थानां क्षेत्र के अधारपुर ओझापुर गाँव निवासी जगदीश प्रसाद की 21 वर्षीय पुत्री शिवानी बचपन से कल्यानपुर थाना क्षेत्र के मौहार गांव निवासी अपने मामा पुत्तन के यहां रह कर पढ़ाई करती थी। जहां उसने 26 अक्टूबर की रात सन्दिग्ध अवस्था मे ज़हरीला पदार्थ खाकर अपनी जीवन लीला समाप्त करने का प्रयास किया। जिसकी जानकारी उसके मामा को हुई तो तुरन्त उसको इलाज के लिए सरकारी 108 एम्बुलेन्स से जिला अस्पताल लेकर पहुंचे। जहाँ उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई। परिजन शव लेकर हुसैनगंज थानां क्षेत्र के अधारपुर ओझापुर गाँव चले गए। वही मृतिका का पिता जगदीश प्रसाद बम्बई में रहकर राजगीर का काम करता है। जब घटना की सूचना उसको मिली तो वह तुरन्त वहां से आया और पुलिस से शिकायत किया तो पुलिस ने मृतिका के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। पोस्टमार्टम हाउस में मृतिका के पिता जगदीश प्रसाद ने आरोप लगाते हुए बताया कि हमारी पुत्री शिवानी अपने मामा पुत्तन के यहां रहकर पढ़ाई करती थी। वही पुत्तन का साला करन ने उसको अपने प्रेम जाल में फसा लिया। 25 अक्टूबर को मूर्ति विसर्जन में वह उसको गंगा घाट पर मिला था। ना जाने उसने हमारी पुत्री से क्या कहा जिसके चलते उसने 26 अक्टूबर की रात को ज़हरीला पदार्थ खा लिया जिससे उसकी मौत हो गयी। पुलिस से अभी ज़बानी शिकायत की है पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद आरोपी करन उसका पिता राकेश उसकी माँ गायत्री देवी भाई मोनू के खिलाफ कार्यवाई करेंगे।
टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
पत्नी के नाम खरीदी प्रॉपर्टी पर परिवार का भी हक, मकान-जमीन रजिस्ट्री कराने से पहले जान लें HC का फैसला
चित्र