पिछड़े वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतिया 17 दिसंबर तक छात्रवृत्ति के लिए करें ऑनलाइन आवेदन

 पिछड़े वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतिया 17 दिसंबर तक छात्रवृत्ति के लिए करें ऑनलाइन आवेदन




फतेहपुर।जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी फतेहपुर ने बताया कि तृतीय चरण हेतु निर्गत समय सारणी के आधार पर पिछड़े वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतियों को जिनकी शैक्षिक योग्यता इण्टर मीडिएट या उनके समकक्ष हो जिनके अभिभावको की वार्षिक आय सीमा रू० 100000.00 (एक लाख) तक हो तथा अभ्यर्थियों की उम्र 18 से 35 वर्ष के मध्य हो, अभ्यर्थी शिक्षित बेरोजगार हो तथा किसी शिक्षण संस्थान से छात्रवृत्ति न लेता हो ऐसे पिछड़े वर्ग के शिक्षित बेरोजगार युवक/युवतियों विभागीय वेबसाइट http:// obccomputertraining.upsdc.gov.in पर उपलब्ध दिशा निर्देश / नियमों के आधार पर प्रशिक्षण दिनांक-05 दिसम्बर 2023 से 17 दिसम्बर 2023 तक अपना ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं ओं लेवल कम्प्यूटर प्रशिक्षण की अवधि 01 वर्ष होगी तथा सी०सी०सी० कम्प्यूटर प्रशिक्षण की अवधि 03 माह होगी। सम्बन्धित आवेदकों द्वारा ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात प्रिन्ट आउट प्राप्त करके उस पर पासपोर्ट साईज फोटो चस्पा कर हस्ताक्षर युक्त निम्न अभिलेखा जैसे- (जाति आय प्रमाण पत्र बोर्ड ऑफ रेवेन्यू / ई-डिस्ट्रिक्ट की वेबसाइट पर होना अनिवार्य) हाईस्कूल / इण्टरमीडिएट के अंक पत्र तथा प्रमाण पत्र एवं आधार कार्ड की छायाप्रति सहित हार्डकॉपी जिला पिछड़ा वर्ग कल्याण अधिकारी कार्यालय विकास भवन कमरा नं0-114 में निर्धारित तिथि एवं समयान्तर्गत उपलब्ध कराना अनिवार्य होगा, अन्तिम तिथि 17 दिसम्बर, 2023 के पश्चात किसी भी प्रकार के आवेदन पत्र स्वीकार नहीं किये जायेगे ओ लेवल एवं सी०सी०सी० कम्प्यूटर प्रशिक्षण से सम्बन्धित विस्तृत दिशा-निर्देश / समय सारिणी उक्त वेबसाइट पर प्रदर्शित हो रही है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
डॉ0 भीमराव आंबेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय फतेहपुर के 34वें वार्षिक कीड़ा समारोह के उद्घाटन दिवस पर प्रतियोगिताएं हुई संपन्न
चित्र
नरेंद्र हत्याकांड में पिता पुत्र को पुलिस ने किया गिरफ्तार
चित्र
कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए विभाकर शास्त्री का हुआ जोरदार स्वागत .
चित्र
खनन माफिया सक्रिय, एनजीटी के नियमों को ताक पर रखकर हो रहा मौरंग का अवैध खनन
चित्र