राजकीय इण्टर काॅलेज मर्का ग्राम मर्का में घाट चैपाल का किया गया आयोजन

 राजकीय इण्टर काॅलेज मर्का ग्राम मर्का में घाट चैपाल का किया गया आयोजन





बाँदा - जिलाधिकारी बांदा दुर्गा शक्ति नागपाल की अध्यक्षता में शासन के निर्देशों के क्रम में राजकीय इण्टर काॅलेज मर्का ग्राम मर्का में घाट चैपाल का आयोजन किया गया। जिलाधिकारी ने घाट चैपाल में उपस्थित ग्रामीणों एवं विद्यालय की छात्र/छात्राओं को नदी व नहरों में होने वाली दुर्घटनाओं के सम्बन्ध में जागरूक करते हुए कहा कि जनहानि से बचाव हेतु सभी लोग सतर्क रहते हुए अपने बच्चों को अकेले नदी व नहरों में नहाने हेतु नही भेंजे। उन्होंने नाॅव संचालन के सम्बन्ध में भी सतर्कता रखने एवं नाॅव में बैठते समय लाइफ जैकेट का प्रयोग करने के सम्बन्ध में जागरूक करते हुए कहा कि नाॅव में क्षमता से अधिक लोगों को न बैठायें, नाॅव संचालन के समय नाॅव को अवश्य चेक कर लें तथा ठीक रखें। उन्होंने कहा कि जिन बच्चों को तैरना नही आता है वह नदी व नहरों के किनारे अकेले नहाने नही जायें। उन्होंने कहा कि किसी दुर्घटना के होने पर मल्लाह समुदाय के लोगों का बहुत अधिक सहयोग बचाव के कार्य में रहता है, उन्होंने इनके इस कार्य प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि किसी प्रकार दैवीय आपदा होने पर आवश्यक सहायता हेतु 1070 नम्बर अवश्य ध्यान रखें। इस अवसर पर किसी प्रकार की दुर्घटना होने की स्थिति में प्राथमिक उपचार एवं आवश्यक सहायता हेतु 108 एम्बुलेन्स को काॅल किये जाने के सम्बन्ध में भी बताया गया, जिससे कि लोंगो को जनहानि होने से बचाया जा सके। जिलाधिकारी ने चैपाल में नाॅव संचालन में बरतने वाली सावधानियों एवं नदी, तालाब व नहरों में दुर्घटना से बचाव के सम्बन्ध में जागरूक किये जाने हेतु विद्यालय के बच्चों द्वारा पोस्टर प्रतियोगिता में विजयी प्रतिभागियों को स्मृति चिन्ह भेंट किये।

उप जिलाधिकारी श्री नमन मेहता ने दैवीय आपदा या दुर्घटना होने पर तत्काल तहसील स्तर पर सहायता एवं आर्थिक मदद हेतु सूचित करने के साथ आवश्यक सावधानियों को रखने तथा नाॅव के संचालन में नाॅव में आवश्यक व्यवस्थायें रखने तथा क्षमता से अधिक लोंगो को बैठाकर नाॅव का संचालन नही करने के सम्बन्ध में जागरूक करते हुए सावधानी बरतने के सम्बन्ध में बताया।

घाट चैपाल में स्वास्थ्य विभाग एवं मेडिकल काॅलेज के चिकित्सक डाॅक्टर विनोद भारती एवं ऋषि द्वारा नहरों, घाटों में होने वाली आपदा की स्थिति में बचाव हेतु प्राथमिक उपचार के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी। श्री रईस द्वारा नाॅव के संचालन के समय लाइफ जैकेट, ट्यूब व अन्य उपकरणों का उपयोग किये जाने के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी। मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा बाढ के समय पशुओं को बचाव हेतु उपायों को बताते हुए पशुओं का समय से टीकाकरण कराये जाने, पशुधन बीमा में पशुओं का बीमा कराये जाने, जिसके प्रीमियम में छूट भी प्रदान की जाती है तथा पशुओं का दिनांक 25 दिसम्बर से खुरपका, मुंहपका का टीकाकरण कराये जाने के सम्बन्ध में जानकारी दी गयी।

घाट चैपाल में खण्ड विकास अधिकारी, प्रभारी चिकित्सा अधिकारी, ग्राम प्रधान मर्का, विद्यालय के प्रधानाचार्य सहित बडी संख्या में ग्रामीण एवं विद्यालय की छात्र/छात्रायें तथा सम्बन्धित विभाग के अधिकारीगण उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
अवैध कब्जेदार ने निर्देश के बाद भी कब्जा न हटाया तो राजस्व विभाग ने चलाया बुलडोजर
चित्र
बेटे ने पहले कराया माता पिता का जीवन बीमा फिर बीमा की रकम के लिए माँ की गला घोंटकर हत्या,पिता के तहरीर पर पुत्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज
चित्र