राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री पर गलत टिप्पणी करने पर भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने किया प्रदर्शन

 राहुल गांधी द्वारा प्रधानमंत्री पर गलत टिप्पणी करने पर भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा ने किया प्रदर्शन



फतेहपुर।भारतीय जनता पार्टी पिछड़ा वर्ग मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष नरेंद्र कश्यप  के आवाहन पर पिछड़ा वर्ग मोर्चा के जिला उपाध्यक्ष जनसेवक राजेश सिंह के नेतृत्व में  लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की प्रतिमा स्थल  पटेल नगर चौराहा फतेहपुर में कांग्रेस के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा न्याय यात्रा में संबोधित करते हुए भारत देश के यशस्वी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी  के विरुद्ध टिप्पणी करके पिछड़ा वर्ग का अपमान किया है यह  पूरे देश में मोहब्बत की दुकान खोलने का नाटक करते हुए अपमान एवं विघटनकारी विचारों के साथ जनता के बीच में जाति धर्म के आधार पर बटवारा कर रहे हैं ऐसे विश्व ववन करने पर उनके खिलाफ जनमानस में आक्रोश उत्पन्न हुआ है साथ में उत्तर प्रदेश में नारा लेकर चलने वाले समाजवादी विचारधारा के लोगों द्वारा चुप हो जाना  मौन समर्थन व्यक्त हो रहा है जनता को पिछड़े अगड़े  एवं धर्म के आधार पर बांटने वालों का बहिष्कार बहिष्कार करेगी जनता धर्म और जाति पर बांटने वालों का जनता 2024 में इनका  स्तर स्थापित करने में महत्वपूर्ण भूमिका अदा करेगी वहीं भारतीय जनता पार्टी के 80 के 80 सेट देकर जनता  आगे पिछड़ा अगड़ा में बांटने वालों पर। पूर्ण विराम लगाते हुए राष्ट्रवाद का राष्ट्रवाद को स्थापित करेगी कार्यक्रम में मुख्य रूप से जिला उपाध्यक्ष जनसेवक राजेश सिंह जिला उपाध्यक्ष बैजनाथ वर्मा जनसेवक राजेश सिंह पंकज राजपूत संतराम फौजी महेंद्र सिंह अनु सविता आचार्य कमलेश योगी मनोज प्रधान अमित शर्मा अमित राजपूत हरिओम राजपूत अंकित गौतम अभिजीत पटेल  मुनि वर्मा संजीव वर्मा राम विशाल पटेल बाबा रामसनेही वर्मा विकास सविता जितेंद्र सिंह साहित्य सैकड़ो लोग मौजूद थे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
पत्नी के नाम खरीदी प्रॉपर्टी पर परिवार का भी हक, मकान-जमीन रजिस्ट्री कराने से पहले जान लें HC का फैसला
चित्र