मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में फर्जीवाड़ा, होगी जांच

 मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह में फर्जीवाड़ा, होगी जांच




कानपुर।सरसौल में मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में दो जोड़ो के विवाह में फर्जीवाड़ा सामने आने के सरसौल बीडीओ ने सभी लाभार्थियो की दोबारा जांच के आदेश दिए हैं। जिसमें सरसौल व भीतरगांव ब्लाक के लाभार्थी शामिल है। जांच के बाद ही लाभार्थियों के खाते में पैसा समाज कल्याण विभाग भेजेगा। बताते चलें कि मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह योजना में दो मामले फर्जीवाड़ा के आने के बाद अधिकारी अब कोई जोखिम नहीं लेना चाहते है। ज्ञातव्य हो कि 6 मार्च को सरसौल ब्लाक परिसर में भीतरगांव व सरसौल ब्लाक के संयुक्त रूप से मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह समारोह का आयोजन किया गया था। जिसमें 88 जोड़ों का विवाह हुआ था। जिसमें एक सरसौल व एक जोड़ा महाराजपुर का लाभार्थी फर्जीवाड़ा कर दोबारा शादी में शामिल हुए थे। वही  अधिकारी ने दिया हुआ सामान उनके घर से वापस ले आये और खंड विकास अधिकारी ने दोनो सचिव को नोटिस जारी कर उनसे स्पष्टीकरण मांगा है। जिसके बाद ब्लाक के अधिकारियों में अफरा तफरी का माहौल है। वहीं, इस सबंन्ध में खंड विकास अधिकारी सरसौल निशांत राय ने सरसौल व भीतरगांव ब्लाक के सभी सचिवों को विवाह में शामिल हुए लाभार्थियो का दोबारा सत्यापन करने का निर्देश दिया।

टिप्पणियाँ
Popular posts
रोड को लेकर अब तक जनपद में कई जगहों पर हुआ सांसद का विरोध
चित्र
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
सरकार बनने पर बुंदेलखंड को अलग राज्य बनाया जाएगा - मायावती
चित्र
भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष 49 लोकसभा प्रत्याशी दीदी साध्वी निरंजन ज्योति के पक्ष में वोट करने की किया अपील
चित्र
पीएम मोदी बोले- कांग्रेस-सपा चारों खाने चित्त हो गई है: कांग्रेस ने इज्जत बचाने के लिए मिशन-50 सीट रखा
चित्र