दिल्ली-एनसीआर में विजिबिलिटी न के बराबर, कोई इलाका ऐसा नहीं जहां की हवा सांस लेने लायक

दिल्ली-एनसीआर में विजिबिलिटी न के बराबर, कोई इलाका ऐसा नहीं जहां की हवा सांस लेने लायक


नई दिल्ली : देश की राजधानी और उसके आसपास के इलाके भयंकर वायु प्रदूषण की चपेट में हैं। पिछले कुछ दिनों से हवा की क्‍वालिटी 'गंभीर' कैटेगरी में बनी हुई है। मंगलवार को दिल्‍ली-एनसीआर में स्‍मॉग की मोटी परत छाई रही। इसकी वजह से दृश्‍यता खासी कम हो गई। सड़कों पर गाड़‍ियां रेंग-रेंगकर चल रही हैं। कुल मिलाकर दिल्‍ली-एनसीआर का कोई इलाका ऐसा नहीं है जहां की हवा सहन करने लायक हो। केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (CPCB) के लाइव एयर क्वालिटी इंडेक्स (एक्यूआई) के मुताबिक, सबसे बुरा हाल गुरुग्राम के सेक्टर 51 का है, जहां आज सुबह 8 बजे एक्यूआई 497 तक पहुंच गया। AQI 500 के पार जाते ही हालात इमरजेंसी कैटेगरी में आ जाती है।


दिल्‍ली हो चाहे नोएडा, गुड़गांव हो या गाजियाबाद... हर जगह एक जैसी स्थिति है। AQI हर जगह 400 के पार है। यह स्थिति पिछले 5 दिन से बनी हुई है। यह हाल तब है जब दिवाली अभी दूर है। एक्‍सपर्ट्स का अनुमान है कि दिवाली के बाद AQI 500 के पार जा सकता है और इमर्जेंसी जैसे हालात बन सकते हैं।


ऊपर की तस्‍वीर दिल्‍ली स्थित‍ एम्‍स के बाहर की है। आपको पुल कहां खत्‍म हो रहा है, यह समझ नहीं आएगा। इससे अंदाजा लगाइए कि दिल्‍ली में विजिबिलिटी कितनी कम है।


Popular posts
क्षेत्रीय भाजपा विधायक करन सिंह पटेल का प्रतिनिधि विपिन पटेल भाजपा की छवि कर रहा है धूमिल।
इमेज
जिला मुख्यालय पर कल जारी होगी पंचायत चुनावों के आरक्षित/अनारक्षित सीटों की सूची
इमेज
उत्तर प्रदेश में होने जा रहे त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव के आरक्षण सूची जारी की जा रही है फाइनल सूची 15 मार्च को
इमेज
तिन्दवारा गांव में बहू व ससुर ने लगाई फांसी बहू की मौत ससुर जिला अस्पताल में भर्ती जहां जिंदगी और मौत से लड़ रहा है
इमेज
कोतवाली प्रभारी तथा सब इंस्पेक्टर को दी गई भावभीनी विदाई
इमेज