महिलाओं के उत्पीड़न को लेकर गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक ने किया प्रदर्शन

महिलाओं के उत्पीड़न को लेकर गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक ने किया प्रदर्शन
---- राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन कोतवाली प्रभारी निरीक्षक को सौंपा
बिंदकी फतेहपुर
महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न अत्याचार से नाराज गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक ने कोतवाली परिसर में प्रदर्शन किया और महामहिम राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन कोतवाली प्रभारी निरीक्षक को सौंपा जिसमें कहा गया कि महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न की समस्याओं को लेकर गंभीरता से लिया जाए और आरोपियों के खिलाफ त्वरित कार्रवाई हो महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न को बंद कराया जाए ऐसा करने वालों के खिलाफ कड़ी से कड़ी सजा दी जाए
          शुक्रवार को गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक के अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में कोतवाली परिसर में प्रदर्शन किया गया जिसमें कहा गया कि वर्तमान समय में महिलाओं से दुष्कर्म व हत्या व उत्पीड़न की घटनाएं निरंतर बढ़ रही है जिससे महिलाएं अपने आप को सुरक्षित नहीं महसूस कर पा रहे महिलाओं के साथ हो रहे उत्पीड़न से सामाजिक व चारित्रिक स्तर भी गिर रहा है जिससे उनके ऊपर हमेशा संकट के बादल छाए रहते हैं इस मामले को लेकर गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक ने जमकर नारेबाजी की और कहा कि यदि महिलाओं का उत्पीड़न कम नहीं होता तो गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक चुप बैठने वाला नहीं है सड़कों पर उतरकर ईट से ईट बजाने का काम करेगा इस मौके पर गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक की अध्यक्ष हेमलता पटेल ने कहा कि पूरे प्रदेश के साथ फतेहपुर जनपद में भी महिलाओं के साथ बेटियों के साथ आए दिन लूट हत्या दुष्कर्म जैसी घटनाएं घट रही है उन्होंने कहा कि यह घटनाएं केवल कानून बनाकर नहीं बल्कि लोगों की मानसिकता में बदलाव लाकर रोकी जा सकती हैं हमारा संगठन महिला उत्पीड़न भ्रष्टाचार के विरुद्ध लगातार संघर्ष कर रहा है इसलिए हमारा गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक महिलाओं को न्याय व सम्मान दिलाना है लगातार प्रयास कर रहा है उन्होंने मांग की कि जो लोग भी महिलाओं में बेटियों पर अत्याचार करते हैं उनका उत्पीड़न करते हैं उनके विरुद्ध ठोस और जल्द कार्रवाई की जाए ऐसे मामलों पर त्वरित निस्तारण किया जाए और पीड़ित महिलाओं बेटियों को न्याय दिलाने का काम किया जाए इस मौके पर गुलाबी गैंग लोकतांत्रिक के पदाधिकारी व सदस्य सीमा देवी सुमित्रा देवी मंजूषा देवी आरती देवी रचना कमला राजरानी उषा देवी राम श्री संतोषी देवी सुनीता देवी प्रीति आमना रीमा देवी पिंकी देवी कोमल अंजलि सुषमा देवी सहित सैकड़ों महिलाएं मौजूद रहे