नगर में सप्ताहिक बंदी बेअसर खुली रहती दुकाने

नगर में सप्ताहिक बंदी बेअसर खुली रहती दुकाने
---- श्रम कानून का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन
बिंदकी फतेहपुर
नगर में सप्ताहिक बंदी का कोई असर नहीं रहता है शनिवार को सप्ताहिक बंदी के होने के बावजूद सुबह से देर शाम तक दुकानें खुली रही। प्रत्येक शनिवार को दुकाने खुली होने के कारण श्रम कानून का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन दिखाई पड़ता है इस मामले को लेकर अधिकारी पूरी तरह से अनदेखी कर रहे हैं
    शनिवार को नगर में सप्ताहिक बंदी होती है लेकिन नगर में सप्ताहिक बंदी का कोई असर नहीं दिखाई पड़ता है लगातार सप्ताहिक बंदी के दिन भी दुकानें खुली रहती है दुकानदार अपनी बिक्री करते हैं वहीं पर दुकानों में लगे कर्मचारी भी पूरे सप्ताह परिश्रम करते हैं जिसके चलते श्रम कानून का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन दिखाई पड़ता है नगर के मुगल रोड खजुआ चौराहा मेन बाजार फाटक बाजार किराना गली बजाजा गली लोहारी गली बर्तन बाजार सहित अधिकांश स्थानों पर दुकाने सप्ताहिक बंदी शनिवार को भी खुली रहती है इस संबंध में एक दुकानदार ने नाम ना छापने के अनुरोध पर बताया कि जब अधिकारी कड़ाई नहीं करते तो दुकानदार दुकानें खोलेंगे ही उसने बताया कि एक दुकान खुलती है तो उसके देखते दूसरे दुकान खुलती है इस तरह धीरे-धीरे कर पूरे नगर की दुकानें खुल जाती है शनिवार को भी बाजार का दिन जैसा माहौल दिखाई देता है वही एक ग्राहक ने कहा कि अन्य दिनों की तरह शनिवार को भी पूरा सामान दुकानों में मिलता है हालांकि सप्ताहिक बंदी शनिवार को पूरी तरह से दुकानें बंद होनी चाहिए लेकिन अधिकारियों की लापरवाही के कारण दुकानें खुली रहती हैं श्रम कानून का खुल्लम खुल्ला उल्लंघन दिखाई पड़ता है