चाइल्ड हेल्प को सौंपा गया 5 वर्षीय निराश्रित दिव्यांग बच्चा

 चाइल्ड हेल्प को सौंपा गया 5 वर्षीय निराश्रित दिव्यांग बच्चा


---- मां की कई वर्ष पहले हो चुकी मौत पिता का कोई पता नहीं

बिंदकी फतेहपुर

निराश्रित 5 वर्षीय दिव्यांग बच्चे को पुलिस की मौजूदगी में चाइल्ड हेल्प लाइन के सदस्यों को सौंप दिया गया। बच्चे की मां की कई वर्ष पहले मौत हो चुकी है जबकि पिता का कई वर्षों से कोई पता नहीं चल रहा जिसके चलते बच्चा पूरी तरह से निराश्रित है पड़ोस के लोग भूखे प्यासे बच्चे को पालन पोषण कर रहे थे

        बताते चलें कि नगर के लंका रोड में आरिफ का 5 वर्षीय पुत्र आसिफ वर्तमान समय में पूरी तरह से निराश्रित था मोहल्ले के लोगों की माने तो आसिफ की मां की कई वर्ष पहले मौत हो चुकी थी जबकि पिता आरिफ का पिछले कई वर्षों से कोई पता नहीं है मोहल्ले के लोग ही 5 वर्षीय दिव्यांग आसिफ का पालन पोषण कर रहे थे क्योंकि अब बच्चा बड़ा हो रहा है उसे खानपान और कपड़े की व्यवस्था चाहिए जिसके चलते अब मोहल्ले के लोगों ने भी हाथ खड़े कर लिए थे लोगों ने इसकी सूचना पुलिस को दी पुलिस ने इस मामले की जानकारी चाइल्ड हेल्पलाइन फतेहपुर को दी थी जिसके चलते बुधवार को चाइल्ड हेल्पलाइन फतेहपुर की काउंसलर माया देवी तथा चाइल्ड हेल्प लाइन के सदस्य सत्यदेव नगर के लंका रोड मोहल्ला पहुंचे जहां पर पुलिस की मौजूदगी में चाइल्ड हेल्पलाइन की काउंसलर माया देवी को बच्चों को सौंप दिया गया इस मामले में कस्बा प्रभारी रितेश राय ने बताया कि बच्चा पूरी तरह से निराश था कोई पालन पोषण करने के लिए तैयार नहीं था बच्चा दिव्यांग था जिसके चलते इस मामले की सूचना चाइल्ड हेल्पलाइन को दी गई थी चाइल्ड हेल्प लाइन को बच्चे को सौंप दिया गया है ताकि उसका पालन पोषण ठीक ढंग से सुचारू रूप से हो सके