अस्पताल में भर्ती पुरुषों के लिए महिलाओं की तुलना में ज्‍यादा घातक हो सकता है कोरोना

 अस्पताल में भर्ती पुरुषों के लिए महिलाओं की तुलना में ज्‍यादा घातक हो सकता है कोरोना



(न्यूज़)।कोरोना वायरस को लेकर एक नया अध्ययन किया गया है।इसमें पाया गया है कि अस्पताल में कोरोना का इलाज करा रहे पुरुषों के लिए यह वायरस ज्यादा घातक हो सकता है।महिलाओं की तुलना में ऐसे पुरुषों में मौत का खतरा 30 फीसद अधिक हो सकता है।अध्ययन में कोरोना से होने वाली मौत के लिए कई कारकों की पहचान की गई है।यह अध्‍ययन क्लीनिकल इंफेक्शियस डिजीज पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।अध्ययन में पाया गया है कि अस्पताल में भर्ती उन कोरोना रोगियों में मौत का उच्च खतरा पाया गया,जो पहले से ही मोटापा,उच्च रक्तचाप और डायबिटीज से जूझ रहे थे।यह निष्कर्ष अमेरिकी अस्पतालों में भर्ती किए गए करीब 67 हजार कोरोना पीड़ितों पर किए गए एक अध्ययन के आधार पर निकाला गया है।अमेरिका की मैरीलैंड स्कूल ऑफ मेडिसिन के प्रोफेसर एंटोनी हैरिस ने कहा,अस्पताल में भर्ती ऐसे कोरोना मरीजों का आकलन करना बेहद जरूरी है,जिनमें मौत का उच्च खतरा हो सकता है।इससे खतरे को टालने में मदद मिल सकती है।

Popular posts
नर्सिंग होम में चिकित्सक की लापरवाही से बालक की मौत को लेकर हुआ हंगामा, संचालक गिरफ्तार
इमेज
शनिवार से लगेगा कोरोना का टीका, इन लोगों से होगी शुरुआत
इमेज
जिलाधिकारी ने बांदा टांडा बाईपास नउवाबाग राधा नगर एवं गाजीपुर विजयीपुर मार्ग का किया निरीक्षण
इमेज
पड़ोसी ने किया पांच वर्षीय मासूम के साथ दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तार
इमेज
जानकी इंटर कॉलेज के प्रधानाचार्य के सामयिक निधन से शिक्षा जगत में शोक व्याप्त
इमेज