पति से मिलने को दर-दर भटक रही पीड़ित महिला

फेसबुक के प्यार में हुई धोखाधड़ी



पति से मिलने को दर-दर भटक रही पीड़ित महिला



फतेहपुर। डिजिटल इंडिया की दुनिया में फेसबुक और व्हाट्सएप का दुरुपयोग करने वाले की कमी नहीं जी हां हम आपको बताते हैं कोलकाता निवासी सुनीता धानुक पुत्री प्लस कुमार धानुक ने अपनी आपबीती बताते हुए बताया कि फतेहपुर जनपद का अभिषेक आर्य पुत्र राजू आर्य नाम का युवक दिल्ली में रहकर फेसबुक के जरिए कोलकाता निवासी सुनीता धानुक को प्यार झांसे में लेकर कोलकाता पहुंच गया और वहां पर सुनीता धानुक को प्यार का झांसा देकर उससे कोर्ट मैरिज भी कर डाली कोर्ट मैरिज करने के बाद 9 महीने तक वह सुनीता धानुक के साथ कोलकाता में रह कर अपना जीवन यापन कर रहा था परंतु सुनीता धानुक ने बताया कि जीवन यापन करने के साथ अभिषेक आर्य की नियत तब खराब हो गई जब उसने देखा कि सुनीता धानुक अपनी मां का ब्यूटी पार्लर चलाती हैं और ब्यूटी पार्लर के द्वारा आए हुए पैसों पर अभिषेक आर्य की नियत खराब हो गई जिस बात को लेकर वह आए दिन सुनीता धानुक के साथ मारपीट करने लगा और सुनीता धानुक से पैसों की डिमांड करने लगा हालांकि पति का दर्जा देने वाली सुनीता धानुक ने उसकी सारी बातें मानी और उसे खर्च के लिए पैसे भी देने लगी है परंतु बात इतनी बढ़ गई कि जब सुनीता धानुक ने पैसों का खर्च देना बंद कर दिया तब  उसकी पुत्री को भी प्रताड़ित करने लगा वही आज पीड़ित महिला का कहना है कि जब उसकी बेटी को प्रताड़ित करने लगा तो उसने इस बात का विरोध किया और उसे समझाया कि जब आप ने कोर्ट में शादी की थी तब आपने मेरी पुत्री को भी एक्सेप्ट किया था फिर आज किस बात की लड़ाई हो रही है बल्कि अभिषेक आर्य की नियत तो उसके पैसों पर खराब थी और उसने मौका देख कर एक दिन हाथ सफा कर दिया मौका देखते ही ₹300000 के जेवर और ₹100000 नगद लेकर घर से इंटरव्यू देने के बहाने निकला और आज तक लौटकर कोलकाता नहीं गया वहीं पीड़ित महिला अब अपने परिवार के साथ दर-दर की ठोकरें खा रही हैं आज जब वह कोलकाता पुलिस को लेकर आई तो आबू नगर चौकी इंचार्ज के साथ उसके घर पहुंची तब उसके घर में ताला लगा पाया वही पीड़ित महिला ने बताया कि उसकी शादी 26 मार्च 2019 को कोर्ट में जाकर दोनों ने राजीनामे के साथ शादी की थी शादी के कुछ दिनों तक सब ठीक रहा उसके बाद 9 फरवरी सन 2020 को इंटरव्यू के बहाने से घर की तिजोरी में रखा ₹300000 का जेवर और ₹100000 नगद लेकर वह उत्तर प्रदेश भाग आया है और जब पीड़ित महिला ने उससे संपर्क करना चाहा तो उसने बताया कि ऐसे मैरिज सर्टिफिकेट उसके उत्तर प्रदेश में कितने तैयार होते हैं और कुछ नहीं होता और यदि उत्तर प्रदेश के फतेहपुर जनपद पीड़ित महिला आ गई तो वह यहां से लौटकर वापस नहीं जाएगी उसे काटकर गंगा नदी में बहा देंगे वही पीड़ित महिला ने यह भी बताया कि अभिषेक आर्य का मामा सचिन कुमार ने भी उससे शादी से पहले कर्ज के तौर पर ₹40000 और शादी के बाद कर्ज के तौर पर ₹ ₹10000 नगद लिए हैं इन सब साजिशों में उनके पिता उनकी माता व उनका भाई तथा उनका मामा भी शामिल है वही पीड़ित महिला का कहना है कि ऐसे दोषियों के ऊपर कानूनी कार्रवाई करनी चाहिए ताकि वह भविष्य में किसी अन्य लड़की की जिंदगी ना बर्बाद कर सकें।

[10/01, 6:11 pm] Press Narendra S संपादक: शहर में धड़ल्ले से फल-फूल रहा मादक पदार्थों का कारोबार प्रशासन बना अंजान


फतेहपुर।शहर कोतवाली क्षेत्र के कई जगहों पर मादक पदार्थों जैसे गांजा, स्मैक,चरस का धंधा बहुत ही तेजी से फल-फूल रहा है। इन सबके बावजूद प्रशासन  ने अनभिज्ञता दिखा रखी है। राधा नगर अन्दौली पुलिया के पास गंजे का व्यापार धड़ल्ले से चल रहा है। तो वहीं पुलिस चौकी के पास चौराहे पर भी मादक पदार्थों को सक्रियता के साथ बेचा जा रहा है। यही आलम जयराम नगर जूनिहा चौराहे का वहां भी गांजा व स्मैक  धड़ल्ले से बिक रहा है।वह चाहे गाजीपुर बस स्टॉप हो य पीरनपुर हो, वर्मा चौराहा,आबू नगर, ज्वाला गंज व शहर के तमाम हिस्सों पर गांजा व  स्मैक की अवैध रूप से स्मगलिंग कर रहे हैं।

कप्तान सतपाल अंतिल  के सख्त दिशा निर्देश के बावजूद यह माफिया बहुत तेजी से फल-फूल रहे क्या प्रशासन को इस बात की खबर नहीं है या फिर जानबूझकर अनजान बन रहे हैं। आज युवा पीढ़ी मादक पदार्थों के नशे में इस कदर लिप्त है कि चोरी, डकैती, फिरौती,  हत्या तक करने पर उतारू है। क्योंकि एक बार नशे की जिसको लत लग गई है तो नशे को पूरा करने के लिए उसे रुपए की आवश्यकता जरूर पड़ेगी। रुपया घर से न मिलने पर युवा गलत कार्यों को अंजाम दे रहे हैं प्रशासन को तेजी व सख्ती दिखाते हुए इन मादक पदार्थों की अवैध बिक्री को रोकना होगा ।जिससे कि युवाओं को नशे से मुक्त किया जा सके। शहर को चोरी, डकैती व फिरौती से मुक्ति मिल सके प्रशासन की सक्रियता से  ही लोगों को भयमुक्त किया जा सकता है।

Popular posts
यूपी पंचायत चुनाव में ग्राम प्रधान, ग्राम पंचायत सदस्य, बीडीसी औऱ जिला पंचायत सदस्य के पदों के लिए चिन्हों का चयन हो गया है
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज
बकाया विद्युत बिल जमा ना होने पर काटे जाएंगे कनेक्शन--- एक्सईएन विद्युत विभाग
इमेज
जनपद के समस्त टोल प्लाजों में फतेहपुर जनपदवासियों को छूट एवं सविधाएँ को लेकर जिलाधिकारी को सौंपा गया ज्ञापन
इमेज
बकेवर सब्जी मंडी से सायकिल चोरी
इमेज