दर्दनाक हादसा, पहले बेटी फिर पिता ने उसी कमरें में लगा ली फांसी

 दर्दनाक हादसा, पहले बेटी फिर पिता ने उसी कमरें में लगा ली फांसी



सीतापुर। जिलें में एक दर्दनाक हादसा सामने आया है जिसमें बेटी के फांसी लगाकर आत्महत्या करने के मात्र 03 घंटे बाद पिता ने भी उसी कमरे में फांसी लगा ली जिसमें उसकी बेटी ने अपनी जीवन लीला समाप्त की थी।

मामला जिले के खैराबाद क्षेत्र के लखीरपुर रोड पर स्थित नानकारी गांव का है जहां किराये गये घर मे कपडा सिलाई का काम करने वाला सूरज अपने तीन बेटियों के साथ रहता था। बताया जाता है कि सूरज मूल रूप से कोतवाली देहात के गुलाबपुर गांव का निवासी था। सूरज के पत्नी की मृत्यू लगभग दो वर्ष पूर्व हो चुकी थी। मिल रही जानकारी के अनुसार मंगलवार की शाम को लगभग आठ बजे सूरज की अठारह वर्षीय पुत्री ने घर के एक कमरे में फांसी लगाकर अपनी जान दे दी जिसकी सूचना उसकी छोटी बेटियो ने सूरज को दी।

घटना की जानकारी पुलिस केा मिलने पर उन्होनें मौके पर पहुच कर अपनी कार्यवाही को अंजाम देेते हुए सूरज की पुत्री की लाश को पोस्टमार्टम हेतु भेज दिया। उसी दिन रात लगभग ग्यारह बजे पता नही क्या हुआ सूरज भी उसी कमरे मे गया ओैर उसने भी फांसी लगा ली, बताया जाता है कि उस समय वह घर मे अकेला था। बेटी की आत्महत्या के मात्र तीन घंटो बाद ही पिता की आत्महत्या जेैसी घटना से क्षेत्रवासियों में तरह तरह के कयास लगाये जा रहे है। फिलहाल पुलिस के मुताबिक बेटी ओैर पिता की इस तरह की आत्महत्या के कारणो का अभी कुछ पता नही चल पाया है छानबीन की जा रही है जैसे ही कारणों की जानकारी होती है खुलासा किया जायेगा।