प्रधानमंत्री योजना से बना मार्ग 3 साल में हुआ जर्जर,

 प्रधानमंत्री योजना से बना मार्ग 3 साल में हुआ जर्जर,

 पैदल में भी जोखिम भरा सफर,

मझिगवां मोरंग खदान में पेड़ काटकर यमुना नदी धारा रोकने का प्रयास

किशुनपुर थाना क्षेत्र के मझिगवां मोरंग खदान संचालको द्वारा कराया जाता है।अवैध खनन व ओवरलोडिग रोक लगाने में नाकाम प्रशासन,



छापे से पहले ही पहुंच जाती है माफिया तक सूचना


जिले में अवैध खनन पर डीएम स्तर से कार्रवाई की तैयारी होती है, तो माफिया तक यह सूचना पहले ही पहुंच जाती है। ऐसे में जब तक टीम मौके पर पहुंचती है तब तक माफिया अपने वाहनों को संबंधित बालू प्वाइंट से हटवा लेते हैं। ओवरलोडिग पर भी नहीं की जा रही कार्रवाई

सरकार  एकतरफा फैसला


 सूबे की सरकार सत्ता में आने के पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भरी जनसभा में कहा था कि पिछली सरकार में खनन माफिया हावी थे। यह हमारे लिए चैलेंज है। अवैध खनन हरगिज नहीं होगा और बालू के आसमान छूते दाम जमीन पर आएंगे लेकिन इस चेतावनी के बाद भी जनपद के मझिगवां गढीवा मे अवैध खनन के साथ ओवरलोडिंग और तेज हो गई है।रात दिन टुटहवापुर,से रामपुर,खागा,थुरियानी ,नरैनी गांव के बीच ओवरलोड ट्रकों,टेक्टरों की कतारें निकल रही है।।