आमजन के लिए 6 फरवरी से खुलेगा राष्ट्रपति भवन का मुगल गार्डन, फ्री में होगा रजिस्ट्रेशन

 आमजन के लिए 6 फरवरी से खुलेगा राष्ट्रपति भवन का मुगल गार्डन, फ्री में होगा रजिस्ट्रेशन



न्यूज़।कोरोना वायरस की महामारी के कारण बंद किए गए राष्ट्रपति भवन के मुगल गार्डन को एक बार फिर जनता के लिए खोलने का फैसला किया गया है. यह लॉकडाउन के बाद से अभी तक बंद था. अब जब कोरोना संक्रमण पर तकरीबन नियंत्रण पा लिया गया है तो इसे जनता के लिए 6 फरवरी से खोले जाने का निर्णय हुआ है. न्यूज़ एजेंसी एएनआई के अनुसार शनिवार और रविवार (सरकारी छुट्टियों को छोड़कर) पर भी यह खुला रहेगा. यहां जाने वाले लोगों के लिए निर्देश भी जारी किए गए हैं, जिनका उन्हें पालन करना होगा.

दरअसल, दिल्ली स्थित राष्ट्रपति भवन का मुगल गार्डन खासा मशहूर है. इसे देखने दूर दूर से लोग आते हैं. 10 माह पूर्व से इसे कोरोना संक्रमण के कारण बंद कर दिया गया था. अब एक बार फिर इसे 6 फरवरी से खोला जा रहा है. राष्ट्रपति भवन की इस बगिया में ढेरों किस्म के गुलाब और ट्यूलिप के फूल मौजूद हैं. इसके अलावा यहां जापान और जर्मनी के फूलों का रंग भी देखने को मिलता है. मुगल गार्डन को बेहद खूबसूरती के साथ तैयार किया गया है. मुगल गार्डन के भीतर 12 गार्डन हैं जो अपनी गुणवत्ता के लिए मशहूर हैं. इनमें मुख्य रूप से मुगल गार्डन रेक्टेंगिल, लॉन व सर्कुलर तीन हिस्सों में बंटा है. इसके साथ रोज गार्डन, बायो डायवर्सिटी पार्क, म्यूजिकल फाउंटेन, हर्बल गार्डन, बटरफ्लाई, सनकीन गार्डन, कैक्टस गार्डन, न्यूट्रीशियन गार्डन व बायो फ्यूल पार्क स्थित है. गार्डन में कई शानदार फब्बारे भी हैं, जो यहां आने वाले लोगों का मन मोह लेते हैं. राष्ट्रपति भवन में म्यूजियम भी है, जहां कई ऐतिहासिक वस्तुओं को संरक्षित कर रखा गया है.

इसके साथ ही यहां सुरक्षा को लेकर कुछ दिशा निर्देश भी जारी किए गए हैं. बताया गया है कि सुरक्षा कारणों से मुगल गार्डन परिसर में पानी, दूध की बोतल, ब्रीफकेस, हैंड बैग, लेडीज पर्स, कैमरा, रेडियो, छाता और अन्य आपत्तिजनक वस्तुएं प्रतिबंधित रहेंगीं. इसके साथ ही लोगों को मास्क पहनना भी अनिवार्य रहेगा. यही नहीं, लोगों को सोशल डिस्टेंसिंग का पालन भी करना होगा. मुगल गार्डन में प्रवेश के लिए रजिस्ट्रेशन मुफ्त है जिसे ऑनलाइन ही करवाना पड़ेगा. यही नहीं, एक मोबाइल नंबर से सिर्फ एक ही बुकिंग हो सकती है और जिनकी बुकिंग ऑनलाइन है उन्हें अपना पहचान पत्र साथ ले जाना पड़ेगा।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र