घर बैठे गर्भवती महिलायें प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना का भर रही फार्म

 घर बैठे गर्भवती महिलायें प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना का भर रही फार्म


- 42 हजार 66 लाभार्थियों के खाते में पहुंची धनराशि

- साइट पर ओटीपी डालकर भर सकते हैं फार्म

फतेहपुर। प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना (पीएमएमवीवाई) गर्भवती महिलाओं के लिये लाभकारी साबित हो रही है। अब घर बैठे गर्भवती महिलायें प्रधानमंत्री मातृ वंदन योजना का फार्म भर कर लाभ पा रही है। योजना के तहत मिलने वाली धनराशि का उपयोग जिले की गर्भवती महिलायें अपने खाने पीने में खर्च कर रही हैं। जिले में अब तक कुल 42 हजार 66 लाभार्थियों को योजना का लाभ मिल चुका है।  इसके तहत लाभार्थियों के खातों में कुल 14 करोड 61 लाख 20 हजार की धनराशि भी भेजी जा चुकी है।

        सनगांव की रहने वाली लाभार्थी रोशनी देवी ने बताया कि जब वह दूसरी बार गर्भवती हुई तो दो माह व्यतीत होने के बाद मेरे घर गांव की आशा सविता आई तो उन्होंने इस योजना के बारे में बताया कि यह योजना बहुत अच्छी है इसमे कहीं भी जाना नहीं पडेगा उनकी मदद से मैने घर बैठे आनलाइन आवेदन किया और मुझे योजना के तहत दो किश्त भी मिल चुकी है अब मै इस योजना के बारे में सबको बताती हूं। इसी प्रकार राधानगर की रहने वाली गुडिया का कहना है कि वह जब गर्भवती हुई तो जांच के लिये जिला अस्पताल गई वहां पर उन्हे डाक्टर ने योजना के बारे मे जानकारी दी। बताया कि बच्चे को जन्म देने के बाद इस योजना को अपने मोबाइल से ही आनलाइन कर देना जिससे तुम्हारे पोषण के लिये सरकार ही पैसा उपलब्ध करा देगी। वहीं केवटमई गांव की रहने वाली शाहीन बेगम ने बताया कि गर्भवती होने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र धाता जांच कराने गये तो वहां पर डाक्टर ने घर बैठे आनलाइन रजिस्ट्रेशन की जानकारी दीं। इसके बाद आनलाइन रजिस्ट्रेशन कराया तो योजना के अंतर्गत पहली किश्त खाते में आ गई।

           इस संबध में मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0 गोपाल कुमार माहेश्वरी ने बताया कि इस योजना के तहत महिलाओं को जिले में 13 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र समेत 322 उप स्वास्थ्य केंद्रों पर महिलाओं को इस योजना के तहत लाभान्वित करने का काम विभाग द्वारा किया जा रहा है। इस योजना में गर्भवती महिलायें घर बैठे ही आवेदन कर रही है। बताया कि आनलाइन आवेदन के लिये गर्भवती महिलायें जब लागिन करेंगी तब महिला के फोन पर ओटीपी आयेगा। साइट पर ओटीपी डालन के बाद ही आनलाइन फार्म को भरा जा सकता है।

        जिला कार्यक्रम प्रबंधक लाल चंद्र गौतम ने बताया कि योजना का लाभ उठाने के लिये आनलाइन आवेदन के साथ ही आफ लाइन आवेदन की प्रक्रिया पूर्व की तरह ब्लाक स्तर पर संबंधित कार्यालय अथवा आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से भी भरा जा रहा है। इसका मुख्य उददेश्य यह है कि जिले की कोई महिला इस योजना से वंचित न रह जाये। उन्ही की मेहनत रंग लाई की मंडल में जिले स्तर पर फतेहपुर जनपद दूसरे पायदान पर पहुंचा। घर पर बैठे गर्भवती महिलाओं के आनलाइन आवेदन से कोविड 19 के संक्रमण को भी काफी हद तक रोका गया। इससे महिलाओं को कहीं जाना नहीं पडा लेकिन कुछ महिलाओं ने अपने नजदीकी सहज सेवा केंद्र से भी आनलाइन आवेदन करने का काम किया।

              डीसीपीएम देवेंद्र कुमार वर्मा ने बताया कि यह धनराशि लाभार्थी को तीन किश्तों में दी जाती है। जिले के किसी भी स्वास्थ्य केंद्र पर 150 दिनों के अंदर गर्भधारण पंजीकरण कराने पर प्रथम किश्त के रूप में एक हजार रूपयेए प्रसव होने के पूर्व कम से कम एक जांच होने पर द्वितीय किश्त के रूप में दो हजार रूपये एवं बच्चे का जन्म होने का पंजीकरण होने पर तृतीय किश्त के रूप में दो हजार रूपये लाभार्थी को दिये जाते है।

----------------------------------------------------

Popular posts
सपा नेत्री के नेतृत्व में निकाला गया कैंडल जलूस
इमेज
उम्मेदपुर गांव में गलत तरीके से सरकारी राशन की दुकान आवंटित किए जाने से नाराज सैकड़ों महिलाओं ने जिलाधिकारी को सौंपा ज्ञापन
इमेज
मलवा ब्लाक में CDPO से आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पीड़ित, हो रही अवैध वसूली 
इमेज
हवन पूजन के पश्चात स्थान दूधी कगार शोभन सरकार का मेला शुक्रवार से शुरू
इमेज
विश्व का पहला देश इटली ने कोविड-19 से मृत शरीर का पोस्टमार्टम कराकर पता किया कि शरीर में कोरोना वायरस नहीं है