करो या मरो' नारे के साथ दिव्यांग समिति ने दिया एक दिवसीय धरना

 'करो या मरो' नारे के साथ दिव्यांग समिति ने दिया एक दिवसीय धरना

----- तहसीलदार को सौंपा गया 11 सूत्री ज्ञापन


गिरिराज शुक्ला

बिंदकी फतेहपुर करो या मरो का नारा देकर अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद दिव्यांग कल्याण समिति द्वारा एक दिवसीय धरना दिया गया और तहसीलदार को एक ग्यारह सूत्री ज्ञापन सौंपा गया जिस में दिव्यांगों से संबंधित कई मांगे की गई और कहा गया कि यदि उनकी मांगे पूरी नहीं हुई तो दिव्यांग चुप बैठने वाला नहीं है सड़कों पर उतर कर ईट से ईट बजाने का काम भी करेगा

      सोमवार को नगर के राजकीय बस स्टॉप परिसर में अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद दिव्यांग कल्याण सहायता समिति के तत्वाधान में करो या मरो का नारा देकर एक दिल की धरना प्रदर्शन किया गया धरना प्रदर्शन में मांग की गई कि दिव्यांगों की पेंशन राज महंगाई को देखकर ₹3000 प्रति माह की जाए इसके अलावा दिव्यांग समाज को सभी प्रकार की कर्ज तथा करो से मुक्त किया जाए इतना ही नहीं धरने में दिए गए ज्ञापन में मांग की गई कि दिव्यांग समाज को उत्तर प्रदेश के समायोजित शिक्षामित्रों को अध्यादेश लाकर 25 जुलाई 2017 से नुकसान की भरपाई कर पुनः सहायक अध्यापक बनाया जाए दिमाग समाज के भाई बहनों को शिक्षक सीधे बीटीसी B.Ed डिग्री के आधार पर बनाया जाए दिव्यांगों के अलावा दिव्यांगों के आश्रितों को भी 4% आरक्षण देने की मांग की गई साथ ही दिव्यांगों को ग्राम पंचायत से लेकर लोकसभा तक चुनाव में 4% आरक्षण दिए जाने की मांग की गई। दिव्यांगों को पहले की बात ऐसी बसों में पुणे यात्रा की सुविधा दिए जाने की मांग की गई इस मौके पर धरना स्थल पर तहसीलदार गणेश सिंह पहुंचे जहां पर उन्होंने 11 सूत्री ज्ञापन दिया और दिव्यांग समिति के लोगों को आश्वासन दिया कि उनकी मांगी है ऊपर तक पहुंचाने का काम करेंगे और जल्दी-जल्दी 11 सूत्री मांगों को हल कराने का प्रयास भी करेंगे इस मौके पर अमर शहीद चंद्रशेखर आजाद दिव्यांग कल्याण सहायता समिति के अध्यक्ष जितेंद्र प्रसाद मिश्रा उर्फ अष्टावक्र के अलावा अरुण कुमार शुक्ला मोहित मौर्या महेश कुमार गोवर्धन धनु विजेंद्र कुमार यादव सूरज बाबा चुंबन बाबा लता मंगेश विजय बहादुर सिंह पिंटू विश्वकर्मा संजय यादव राकेश विश्वकर्मा सर्वेश कुमार सिद्धार्थ लालाजी मोहम्मद महफूज जगरूप मोतीलाल वंदना शुक्ला आदि मौजूद रहे