करोड़ों रुपयो की लागत से बनी सड़क जलकर विभाग की लापरवाही से जर्जर

 करोड़ों रुपयो की लागत से बनी सड़क जलकर विभाग की लापरवाही से जर्जर


सड़क गड्ढों में तब्दील

भारी वाहनों का निकलना मुश्किल जान जोखिम में डाल रहे भार वाहन

गिरिराज शुक्ला

तहसील मुख्यालय से लगभग 6 किलोमीटर की दूरी पर स्थित प्राचीन नगरी खजुहा अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा प्रशासनिक अधिकारियों की लापरवाही के कारण आज यह प्राचीन नगरी अपना इतिहास खोने को मजबूर दिख रहा है।

यहां कभी तहसील हुआ करती थी राजा रजवाडो का गढ था । परंतु आज यह कस्बा अपनी दुर्दशा को देखकर आंसू बहाने को मजबूर है जबकि जनपद में भाजपा के कई मंत्री तथा सभी विधायक हैं उनकी सत्ता है फिर भी यह कस्बा अपनी पहचान होने को मजबूर है जर्जर सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई हैं जलकर विभाग की लापरवाही के कारण लीकेज पाइप का पानी सड़कों पर फैल रहा है जिससे सड़कें गड्ढों में तब्दील हो गई है परंतु जिम्मेदार अधिकारी कुंभकरणी की नींद में सोए हुए हैं। कहीं बार गड्ढों में तब्दील सड़कों के कारण बड़े हादसे होने से बचे हैं छोटे-मोटे तो रोज होते ही रहते हैं। नगर के संभ्रांत नागरिकों का कहना है कि कई बार जलकल विभाग से कहा गया परंतु सुनवाई नहीं हुई अगर यह जर्जर सड़कें जल्द नहीं बनवाई गई तो हम सभी आमरण अनशन पर बैठ कर धरना देंगे जिसकी संपूर्ण जिम्मेदारी प्रशासनिक अधिकारियों की होगी।

Popular posts
चार माह बीतने के बाद भी दलित महिला प्रधान को नहीं मिला चार्ज
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र
प्यार दे कर जो हमें विदा हुए संसार से,
चित्र