मनुष्य रूप से नहीं बल्कि चरित्र से बनता है महान-श्री जगतेशवरानंद महाराज

 मनुष्य रूप से नहीं बल्कि चरित्र से बनता है महान-श्री जगतेशवरानंद महाराज


गिरिराज शुक्ला

 फतेहपुर,जाफरगंज क्षेत्र के बसफरा गांव के पथिक जूनियर हाई स्कूल में संत श्री देव प्रकाश जी महाराज की पुण्य स्मृति में आयोजित वेदांत सम्मेलन का समापन पर भक्तों को भंडारे से प्रसाद वितरण किया गया। इसके पूर्व महात्मा ने कहा मनुष्य रूप से नहीं बल्कि चरित्र से महान बनता है। 

अमौली विकास खंण्ड के बसफरा गांव के वेदांत सम्मेलन में मध्य प्रदेश के खंडवा से पधारे संत श्री जगतेश्व़ानन्द जी महाराज ने सुनाया कि जीवन में ऐसे मोड़ आते हैं जिसका मनुष्य को अंदेशा नहीं होता। हर बुराई से लड़ने के लिए तैयार रहना चाहिए। कहा की मनुष्य रूप में जन्म लेना जीव की सबसे बड़ी उपलब्धि है। श्री देव ने कहा भगवान के प्रति पूर्ण विश्वास होने के कारण भक्त पहलाद प्रत्येक कठिनाइयों से मुक्त हो गए। और अंत में अपने पिता हिरण्यकश्यप का उद्धार कराया। प्रहलाद के अडिग विश्वास के चलते भगवान को आने के लिए विवश होना पड़ा। श्री महाराज ने कहा परमात्मा सच्चे और निरीक्षण भाव से दर्शन देते हैं। कथा के समापन पर कन्या भोज का आयोजन हुआ जिसमें कन्याओं ने प्रसाद चखा।

इस मौके पर शिव रामपाल, अखिलेश यादव, रामनिवास यादव, मदन शुक्ला, गोलू शुक्ला प्रेम शंकर शुक्ला आदि लोग मौजूद रहे।