ग्राम प्रधान मस्त जनता त्रस्त

 ग्राम प्रधान मस्त जनता त्रस्त 




प्रधान प्रतिनिधि की चलरही नादिरशाही


अमौली/फतेहपुर ग्राम पंचायत अमौली की नवनिर्वाचित प्रधान शिवकुमारी ग्राम सभा की बागडोर संभालने में नकारा साबित हो रही है। जिसकी पूरी जिम्मेदारी प्रधान प्रतिनिधि प्रकाश चंद्र उर्फ बंटू सोनकर ने संभाल रखी है। जैसा कि सूत्रों से पता चला कि विगत वर्षों की भांति इस वर्ष भी प्रधान अशिक्षित होने की वजह से कोई समझौता व निष्पक्ष फैसला करने में असफल रहती है। जिसको लेकर ग्रामीण मायूस रहते हैं।और वह बेवस होकर अपना फैसला चौकी ले जाने के लिए मजबूर हो जाते हैं। और अमौली चौकी में कई सालों से तैनात सिपाही प्रदीप कुमार यादव, व सुमित यादव तथा स्वयं चौकी इंचार्ज प्रमोद कुमार मौर्य से कुछ अराजक तत्व व प्रधान प्रतिनिधि प्रकाश चंद उर्फ बंटू से अच्छे तालमेल मिलते हैं। जिससे आराम से पीड़ितों से धन उगाही का धंधा चालू कर दिया जाता है। तथा प्रधान प्रतिनिधि ग्राम पंचायत अमौली को छोड़कर अन्य ग्राम पंचायतों का निपटारा रुपए की दम से करवाता है। तथा दोनों पक्षों से रुपए की मांग करता है। प्रधान प्रतिनिधि को चौकी में सम्मानित ढंग से बैठाया उठाया जाता है। जबकि प्रधान प्रतिनिधि के ऊपर गुंडा एक्ट, हिस्ट्रीशीटर जैसे करीब डेढ़ दर्जन से ज्यादा मुकदमे थाना चांदपुर में दर्ज है। ऐसी स्थिति में जब तक ऐसे अराजक तत्व व प्रधान प्रतिनिधि चौकी थाने में बैठने के लिए रोका नहीं जाएगा लोगों को न्याय मिलना लोहे के चने चबाने के बराबर हो जायेंगे। आक्रोशित ग्रामीणों का कहना है कि यैसे प्रधान प्रतिनिधि को चौकी थानो से दूर ही रहना चाहिए। जिससे ग्रामीण निष्पक्ष फैसला कराकर अपने आप को सुरक्षित साबित कर सके। प्रधान प्रतिनिधि ने अपने साथ कई मठाधीशों को रखा हुआ है। और वह मनचाही फैसला करवा कर जनता को लड़ाई झगड़ा करने के लिए मजबूर कर देते हैं। इसी तरह की व्यवस्था रहीं तो लोगों का कानून पर से भरोसा उठने लगेगा, तथा किसी को न्याय मिलना एक टेढ़ी खीर की तरह साबित हो जाएगा।