पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दोस्त को देखकर आग बबूला हुए पति की पत्नी और दोस्त ने मिलकर की हत्या

 पत्नी के साथ आपत्तिजनक स्थिति में दोस्त को देखकर आग बबूला हुए पति की पत्नी और दोस्त ने मिलकर की हत्या 



न्यूज़।राजस्थान के खिंवाड़ा थाना पुलिस ने सुरेश भील के  मर्डर का खुलासा कर मृतक की पत्नी व उसके दोस्त को गुरुवार को गिरफ्तार किया। मृतक ने आरोपी को अपनी पत्नी के साथ कमरे में आपत्तिजनक स्थित में देख लिया था। जिस पर आरोपी ने दुपट्टे से उसका गला घोटकर हत्या कर दी थी। मामले में पुलिस ने मृतक सुरेशकुमार भील की कथित पत्नी महाराष्ट्र के जलालखेड़ा   निवासी 31 वर्षीय सुनीता पत्नी प्रेमदास मनोहरे व उसके दोस्त नयागांव  निवासी 26 वर्षीय गजेन्द्र नाथ पुत्र भीकनाथ को गिरफ्तार किया। गजेन्द्रनाथ ने हत्या करना स्वीकार किया। खिंवाड़ा थानाप्रभारी जयसिंह ने बताया कि इस ब्लाइंड मर्डर को खोलने में कांस्टेबल ओमप्रकाश, भवानीसिंह व पृथ्वीराज की मुख्य भूमिका रही।

बाली सीओ हिमांशु जांगिड़ ने बताया कि 1 अगस्त की सुबह गुड़ा गोपीनाथ जाने वाले मार्ग पर मांगीनाथ के भूखण्ड में नया गांव   निवासी सुरेश पुत्र मांगीलाल भील का शव पड़ा मिला। मृतक की मां ओटकी देवी की रिपोर्ट पर मामला दर्जकर पुलिस ने जांच शुरू की तो कई चौकाने वाली बातें सामने आई। मृतक सुरेश कुमार शादीशुदा था। बाद में महाराष्ट्र की एक विधवा महिला से उसने प्रेम विवाह किया। करीब डेढ़ साल से वह उसके संपर्क में था। हत्या से करीब डेढ़ माह पूर्व सुरेश महाराष्ट्र निवासी सुनीता को गांव लेकर आया। जिस पर परिजनों ने विरोध किया तो सुरेश अपनी पत्नी को लेकर मांगीनाथ के खेत पर बने कमरे में रहने लगा।

मृतक सुरेश व नया गांव के ही गजेन्द्र नाथ अच्छे दोस्त थे। अक्सर दोनों साथ में देखे जाते थे। गजेन्द्र नाथ का सुरेश के घर पर आना-जाना लगा रहता था। वह सुरेश की पत्नी पर फिदा था। यह बात सुरेश को पता नहीं थी। 31 जुलाई को सुरेश किसी काम से बाहर गया था रात को भी घर नहीं आने वाला था। इस बात का फायदा उठा गजेन्द्र नाथ सुरेश के घर चला गया। लेकिन किसी कारण से सुरेश रात को ही वापस घर आ गया। जहां उसने अपनी पत्नी सुनिता व दोस्त गजेन्द्रनाथ को आपत्तिजनक स्थिति में देखा तो आग बबुला हो गया। सुरेश ने पहले पत्नी से मारपीट की फिर गजेन्द्र से झगड़े लगा। दोनों झगड़ते-झगड़ते कमरे से बाहर आ गए। सुरेश ने धमकी दी कि तुम दोनों जो कर रहे थे वह गांव वालों को बताएंगा। जिससे उन्हें भी तुम्हारी करतूत के बारे में पता चल सके। जिस पर गजेन्द्र ने सुरेश के गले में पड़े दुपट्‌टे से सुरेश का घला गोट कर उसकी हत्या कर दी। और शव निकट के भूखण्ड में रख दिया।

सुरेश की मौत की सारी जानकारी होने के बाद भी उसकी कथित पत्नी सुनिता पुलिस को गुमराह करती रही। मामले में पुलिस ने मृतक के दोस्त गजेन्द्र व उसकी पत्नी सुनिता से अलग-अलग पूछताछ की तो दोनों के बयानों में अंदर मिला। जिस पर दोनों से कड़ाई से पूछताछ की तो गजेन्द्र ने सुरेश की हत्या करना स्वीकार किया।

Popular posts
जिले में महिलाओं के हत्या युक्त अज्ञात शव मिलने का नहीं थम रहा सिलसिला 3 दिन पहले मिली थी हत्या युक्त महिला का शव अभी तक नहीं हुई कोई शिनाख्त
चित्र
योगी सरकार ने छात्रवृत्ति का बदला नियम, जानिए पैसे लेने के लिए करना होगा क्या नया काम
चित्र
प्रेम प्रसंग के चलते प्रेमी युगल हुए एक दूजे के
चित्र
15 हजार से कमाई कम तो मिलेगा बीमा और आयुष्मान कार्ड का लाभ, करना होगा यह काम
चित्र
दिल्ली के निर्भया कांड में आरोपियों को फांसी की सजा दिलाने वाली देश की चर्चित अधिवक्ता सीमा समृद्धि लड़े गीं कानपुर की निर्भया का केस
चित्र