अपने गृह राज्य में ही सेना कैंटीन से शराब खरीद सकेंगे पूर्व सैनिक, रक्षा मंत्रालय ने जारी किए आदेश

 अपने गृह राज्य में ही सेना कैंटीन से शराब खरीद सकेंगे पूर्व सैनिक, रक्षा मंत्रालय ने जारी किए आदेश



न्यूज़।शराब पर लगने वाली एक्साइज ड्यूटी के प्रतिबंध के दायरे में अब पूर्व सैनिक भी आ गए हैं। अब पूर्व सैनिक अपने ही गृह राज्य की यूनिट रन कैंटीनों में शराब खरीद सकेंगे। उनको अब साल में केवल एक माह का ही शराब का कोटा दूसरे राज्य की यूनिट रन कैंटीन से मिलेगा। रक्षा मंत्रालय के इंटीग्रेटेड मुख्यालय ने सेवारत जवान और पूर्व सैनिकों को ग्रासरी और शराब की बिक्री के लिए नए नियम लागू कर दिए हैं।दरअसल हर राज्य में शराब पर एक्साइज ड्यूटी अलग होती है। यूपी में एक्साइज ड्यूटी अधिक होने से यहां उत्तराखंड सहित कई राज्यों में मिलने वाली सेना की कैंटीनों की शराब अधिक महंगी होती है। अब तक पूर्व सैनिक अपने स्मार्ट सीएसडी कार्ड से दूसरे राज्यों में यूनिट रन कैंटीन से कम दर पर शराब और ग्रासरी सामान की खरीद आसानी से कर लेते थे। हालांकि इससे यूनिट रन कैंटीनों में घरेलू सामान और शराब की अचानक मांग बढ़ने से इसकी कमी भी हो जाती थी। अधिकांश कैंटीन दो सप्ताह में ही खाली पड़ जाती थी।