लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के तत्वधान में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं महापुरुषों की जन्म स्थली एवं प्रतिमा स्थलों पर विचार गोष्ठी कर दीप प्रज्वलन का किया जा रहा है आयोजन

 लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के तत्वधान में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं महापुरुषों की जन्म स्थली एवं प्रतिमा स्थलों पर विचार गोष्ठी कर दीप प्रज्वलन का किया जा रहा है आयोजन



फतेहपुर।लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल फाउंडेशन के तत्वधान में अखंड भारत के निर्माता भारत  रत्न स्वतंत्र भारत के प्रथम उप प्रधानमंत्री लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की(31 अक्टूबर) 146 वी जयंती पूरे अक्टूबर माह धूमधाम से मनाई जा रही है जिसके क्रम में जनपद भर में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी एवं महापुरुषों की जन्म स्थली एवं प्रतिमा स्थलों पर विचार गोष्ठी कर दीप प्रज्वलन का आयोजन किया जा रहा है कार्यक्रम की अध्यक्षता बाबा रामसनेही एवं संचालन संजय सचान ने की विचार गोष्ठी को संबोधित करते हुए जनसेवक राजेश सिंह ने कहा कि अट्ठारह सौ सत्तावन स्वतंत्रता संग्राम आंदोलन के  कीर्तिमान जोधा सिंह अटरिया  जी के साथ 51 लोगों को बावन इमली खजुहा में फांसी पर लटका दिया गया था जिसे आज हम बावन इमली के नाम से जानते हैं यहां पर शहीद हुए सभी स्वतंत्रता आंदोलन क्रांतिकारियों को आज श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया स्वतंत्रता आंदोलन में देशभर में लाखों लोगों क्रांतिवीर ने अपने प्राणों की आहुति दी है ऐसे सभी महान सपूतों वीरों को आज हम सब उनके प्रति कृतज्ञता अर्पित करते हुए बहुत-बहुत श्रद्धांजलि अर्पित किया गया है।

इस मौके पर आचार्य कमलेश योगी रामायण महेंद्र और महेंद्र सिंह शिव विशाल पटेल जय करण पटेल सुरेश राही रामकिशन पटेल मिथलेश कुमारी धर्मेंद्र कुमार गुड़िया मोर रोहित कुमार राजपूत विक्रम उत्तम पीयूष कुमार अमित मां और शिव कुमार अरविंद कुमार वर्मा कौशल मिश्रा बबलू पटेल मंगल सिंह शिव कुमार प्रदीप गौतम रितिक अजीत पटेल अभिजीत पटेल सहित सैकड़ों लोग उपस्थित थे।

Popular posts
मूर्ति विसर्जन करने गए युवक की जमुना नदी में डूबकर हुई मौत पुलिस ने 21 घंटे बाद लाश की बरामद
चित्र
37 लोगों को लेकर जा रही ट्रैक्टर-ट्रॉली पलटी, 11 लोगों की मौत
चित्र
ऐतिहासिक होता है खजुहा की रामलीला व मेला
चित्र
रहीम की टोपी राम के सर, नही है किसी का डर
चित्र
बिन्दकी नगर के अम्बेडकर चौराहे पर रथ यात्रा के दौरान बीजेपी के जिम्मेदार पदाधिकारियों ने पुलिस से दिखाई गुंडागर्दी
चित्र