आनलाइन ठगी के शिकार पीड़ितो के कुल एक लाख इकसठ हजार दो सौ अट्ठानबे रू0 साइबर क्राइम सेल द्वारा पीड़ितों के बैंक खातों में कराये वापस

 सराहनीय कार्य साइबर क्राइम सेल


आनलाइन ठगी के शिकार पीड़ितो के कुल एक लाख इकसठ हजार दो सौ अट्ठानबे रू साइबर क्राइम सेल  द्वारा पीड़ितों के बैंक खातों में कराये वापस



फतेहपुर।वर्तमान में बढ़ते साइबर अपराध को रोकने व आमजमानस को इससे राहत दिलाने के उद्देश्य के तहत चलाये जा रहे अभियान के तहत श्रीमान् पुलिस अधीक्षक फतेहपुर के कुशल निर्देशन व अपर पुलिस अधीक्षक फतेहपुर के पर्यवेक्षण में साइबर क्राइम सेल जनपद फतेहपुर की टीम द्वारा लगातार सार्थक प्रयास करते हुये साइबर अपराध के शिकार पीड़ितों के कुल 1,61,298 रूपये अथक परिश्रम कर उनके खातों में वापस कराये गये । दिनांक 06.12.2021 को आवेदक राहुल तिवारी पुत्र आनन्द प्रकाश तिवारी नि0 देवीगंज भिखारीपुर थाना कोतवाली नगर फतेहपुर द्वारा शिकायत किया गया कि दिनांक 05.12.2021 को उसके HDFC व SBI बैंक खाते से 146586/- रूपये फ्रॉड करके निकाल लिये गये हैं जिसके सम्बन्ध में आवेदक द्वारा तत्काल श्रीमान् पुलिस अधीक्षक फतेहपुर के समक्ष एक प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किया गया था जिनके निर्देशानुसार साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए खाते का स्टेटमेंट प्राप्त कर कार्यवाही करते हुये सम्बन्धित बैंको व फ्लिपकार्ट, एरोन पे, धानी पे के अधिकारियों से पत्राचार करते हुये फ्राड खाते को फ्रीज करवाकर व अन्य दस्तावेज प्रस्तुत कर पीड़ित के अब तक 117844 रूपये आवेदक उपरोक्त के बैंक खाते में वापस कराये गये। इसी तरह दिनांक 26.11.2021 को आवेदक लालमन पुत्र रामपाल धोबी निवासी सरांय उदई थाना थरियांव जनपद फतेहपुर द्वारा शिकायत की गई कि अनजान व्यक्ति के द्वारा फोन कर एटीएम बन्द होने का झाँसा देकर उसके खाते व ओटीपी की जानकारी प्राप्त कर सैंतालीस हजार रूपये निकाल लिये गये । आवेदक द्वारा तत्काल साइबर क्राइम सेल में शिकायत दर्ज कराई जिस पर साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल कार्यवाही करते हुए वादी के सम्बन्धित बैंक, बैंक ऑफ बडौदा, एरोन पे, मोबिक्विक व SBI के अधिकारियो से सम्पर्क कर 20268/-  रूपया वापस कराया गया । दिनांक 25.11.2021 को आवेदक आशीष सिंह पुत्र धर्मवीर सिंह निवासी आईटीआई रोड फतेहपुर द्वारा शिकायत की गई कि गूगल पर कस्टमर केयर का नम्बर ढूँढने व उस पर बात करने के दौरान अज्ञात व्यक्ति द्वारा उनके यूनियन बैंक ऑफ इंडिया खाते व क्रेडिट कार्ड से तैंतीस हजार रूपये निकाल लिये गये जिसकी जानकारी उन्हे SMS के माध्यम से होने पर तत्काल साइबर क्राइम सेल फतेहपुर में अपनी शिकायत दर्ज करायी थी । साइबर क्राइम सेल द्वारा तत्काल सम्बन्धित बैंक शाखा प्रबन्धक व RBL क्रेडिट कार्ड. एरोन पे, फेडरल बैंक के नोडल अधिकारियो को पत्राचार कर निकाले गये पैसो के सम्बन्ध में पूर्ण जानकारी व प्रपत्र उपलब्ध कराये गये जिसके तहत एरोन पे वालेट से आवेदक के 10,000 रूपये आवेदक के खाते में वापस कराया गया । 

इसी प्रकार दिनांक 26.11.2021 को आवेदक राजेश कुमार निवासी चन्दा गली कोडा जहानाबाद फतेहपुर द्वारा शिकायत की गई कि अज्ञात व्यक्ति द्वारा कॉल कर झाँसे में लेकर ओटीपी प्राप्त कर उनके खाते से लगभग चौहत्तर हजार रूपये की धनराशि निकाल ली गई है । तत्काल सम्बन्धित बैंक शाखा प्रबन्धक, पेटीएम, HDFC, मोबिक्विक के नोडल अधिकारियों को पत्राचार कर निकाले गये पैसो के सम्बन्ध में पूर्ण जानकारी व प्रपत्र उपलब्ध कराये गये जिसके तहत मोबिक्विक व पेटीएम से आवेदक के 10496/- रूपये आवेदक के खाते में वापस कराया गया । इसी प्रकार दिनांक 02.12.2021 को आवेदक अक्षय प्रताप सिंह स0अ0 प्र0वि0 रामनगर कौहन थाना असोथर फतेहपुर मूल निवासी जनपद कौशाम्बी द्वारा शिकायत की गई कि अज्ञात व्यक्ति द्वारा कॉल कर झाँसे में लेकर एनीडेस्क रिमोट एक्सेसिंग सॉफ्टवेयर डाउनलोड करवा कर ओटीपी प्राप्त कर उनके खाते से लगभग पैंतीस हजार रूपये की धनराशि निकाल ली गई है । तत्काल सम्बन्धित बैंक शाखा प्रबन्धक, फ्लिपकार्ट के नोडल अधिकारियों को पत्राचार कर निकाले गये पैसो के सम्बन्ध में पूर्ण जानकारी व प्रपत्र उपलब्ध कराये गये जिसके तहत फ्लिपकार्ट से आवेदक के 2690/- रूपये आवेदक के खाते में वापस कराया गया । शेष रूपयों की जाँच प्रचलित हैं जिनकी रिकवरी हेतु सार्थक प्रयास किये जा रहे हैं ।

सभी आवेदकों द्वारा पुलिस अधीक्षक फतेहपुर एवं साईबर क्राइम सेल के कर्मचारियों का आभार व्यक्त करते हुए कृत कार्यवाही की भूरि-भूरि प्रशंसा की गयी तथा आभार प्रकट किया गया। जनमानस से अपील की जाती है लाखो रूपयो का इनाम जीतने, किसी इनाम में गाड़ी जीत जाने, टावर लगवाने, लोन लेने या कालोनी मिलने जैसे किसी भी तरह के लुभावने विज्ञापन में किसी भी अज्ञात खाते में पैसा न डालें । किसी भी कंपनी का कस्टमर केयर के नंबर गूगल पर सर्च करके उपयोग न करें। एटीएम से रुपये निकालते समय सावधानी बरतें। अपना पिन कोड छुपाकर डालें, अपने आसपास खड़े लोगों से सावधान रहें, आस पास कोई अगर काफी देर से एटीएम में खड़ा है और रुपए नहीं निकाल रहा है तो उसकी सूचना तुरंत साइबर सेल या नजदीकी पुलिस  स्टेशन में दे। बैंकों से आने वाली कॉल से सावधान रहें। अपना ओटीपी कभी किसी को न बताएं, चाहे वह अपने आप को बैंक मैनेजर ही क्यो न बताएं । फोनपे ,गूगलपे या अन्य किसी यूपीआई एप पर किसी के द्वारा रिफंडिंग जैसी मैसेज के लिंक या रिक्वेस्ट को एक्सेप्ट न करें। ऐसा करने पर आप साइबर ठगी का शिकार हो सकते हैं। किसी से जानकारी प्राप्त करने हेतु आनलाइन फार्म गूगल डाक्स इत्यादि का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। साइबर अपराधी द्वारा इन एप्लीकेशंस का दुरुपयोग कर पीड़ित व्यक्ति से बैंकिग लेनदेन से संबंधित गोपनीय जानकारी जैसे एटीएम नंबर, यूपीआइ पिन, पासवर्ड इत्यादि दर्ज करवा लिया जाता है। जैसे ही पीड़ित व्यक्ति फार्म में बैंक से संबंधित गोपनीय जानकारी भरता है, यह गोपनीय जानकारी साइबर जालसाज द्वारा प्राप्त कर ली जाती है। इसके माध्यम से साइबर ठग द्वारा पीड़ित व्यक्ति के खाते से पैसों की अवैध निकासी कर ली जाती है। किसी भी अनजान व्यक्ति के पास कोई भी अवांछित संदेश ना भेंजे। अपना किसी प्रकार का संदेश शेयर ना करें। इसके साथ ही किसी अनजान व्यक्ति से अपना ओटीपी शेयर ना करें। किसी अनजान व्यक्ति के साथ आधार नंबर, ईमेल आइडी, सत्यापन कोड व अन्य निजी जानकारी साझा न करें। सोशल मीडिया पर खातों के लिए दो चरणीय सत्यापन को सक्रिय करें। यह आपको खाते की सुरक्षा को बढ़ाएगा और भले ही जालसाज को सत्यापन कोड मिल जाए, लेकिन फिर भी अकाउंट खोलने के लिए पासवर्ड की आवश्यकता होगी। जो किसी अन्य संवेदनशील व्यक्तिगत जानकारी के लिए पूछने वाले व्यक्तिगत संदेशों पर प्रतिक्रिया ना दें। आनलाइन वेबसाइट के माध्यम खरीददारी हेतु पूर्व भुगतान करते समय बेहद सावधानी बरते । सम्भव हो तो विक्रेता से पर्सनल मिले बिना लेन देन करने से बचे। अज्ञात कालर द्वारा विभिन्न सरकारी योजनाओ व कालोनी स्वीकृत किये जाने के नाम पर भी पैसो की मांग किये जाने पर ऐसे व्यक्तियो के खाते में पैसे जमा न करे तथा इसकी शिकायत निकटतम पुलिस थाने या राष्ट्रीय साइबर क्राइम हेल्पलाइन नं0 155260 या 112 पर अवश्य करे।

 साईबर क्राइम सेल टीम -निरी0 अतुल्य कुमार पांडेय प्रभारी साईबर सेल जनपद फतेहपुर का0 प्रवीन सिंह साईबर सेल का0 नीरज कुमार साईबर सेल