कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को 8 सूत्री ज्ञापन सौंपा


 कांग्रेसियों ने जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल


को 8 सूत्री ज्ञापन सौंपा


संवाददाता बाँदा - उत्तर प्रदेश के बांदा जनपद में आज कांग्रेसियों के द्वारा 8 सूत्री मांगों को लेकर जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल को ज्ञापन दिया गया , ज्ञापन के माध्यम से बताया कि उत्तर प्रदेश में सहारा और पल्स कंपनियों ने करोड़ों लोगों का पैसा RD ,FD व अन्य योजनाओं में भारी मुनाफे का लालच देकर जमा कराया गरीब व सामान्य वर्ग के लोगों ने अपने बेहतर भविष्य व बेटियों की शादी आदि के लिए अपनी मोटी कमाई सहारा में जमा कराई जो निश्चित मियाद पूरी होने के बाद भी सालों से उन्हें नहीं मिल पा रही है, प्रदेश का कोई ऐसा जिला या क्षेत्र अछूता नहीं है, जहां गरीब और सामान्य वर्ग के लोगों का पैसा सहारा में ना फसा हो , निवेशक पिछले चार- पांच साल से लगातार इन कंपनियों के चक्कर लगा रहे हैं, सहारा की शाखाओं में जाने पर वहां मौजूद लोग पैसा मिल जाएगा कहकर इसे टाल देते हैं, पिछली सरकारों ने उन लोगों की कोई सुध नहीं ली जिनके सहारा व इन कंपनियों में पैसे फंसे हुए हैं, जो उन्हें उनकी जरूरत के समय तो नहीं मिल पाए और जिनके अभी मिलने की कोई संभावना नहीं है सहारा में तो इस कंपनी के लगभग 12 लाख कर्मचारियों का पैसा तक फंसा हुआ है परंतु सरकार के पास ऐसा कोई डेटा तक नहीं है, जिससे यह पता चल सके कि प्रदेश में कितने लोगों का पैसा इन कंपनी में फंसा हुआ है प्रदेश के लोगों के साथ किए गए इस लूट-घसोट के सारे मामले बताते हुए कांग्रेसियों ने ज्ञापन सौंपा ।


Bio- आपको बता दें कि पूरा मामला बांदा जनपद के कलेक्ट्रेट परिसर से सामने आया है जहां आज कांग्रेसी ने पहुंचकर 8 सूत्री ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से महामहिम राज्यपाल उत्तर प्रदेश को सौंपा है व कांग्रेस के जिलाध्यक्ष लालू दुबे ने बताया कि मैं आप लोगो के माध्यम से एक बात सार्वजनिक करना चाहता हु की पिछले पांच साल से अधिक समय से लेकर सहारा बैंक और पीसीएल गांव के किसानों का मजदूरों का बेरोजगार साथियों का थोड़ा- थोड़ा करके रोज पैसा जो जमा होता था उसे पैसे का पेमेंट नहीं कर रही है और रोज बहाना बना रही है की सेवी इस पैसे को रोक रहा है मैं मांग करता हु की जिला अधिकारी के माध्यम से अपने उत्तर प्रदेश के राज्यपाल को ज्ञापन भेजा है और कांग्रेस प्रदेश स्तर पे इसकी मांग की है की सभी खाता धारकों का पैसा दिया जाए ।