ललौली- मुत्तौर मार्ग को गड्ढा मुक्त करने के नाम पर लाखों का घोटाला

 ललौली- मुत्तौर मार्ग को गड्ढा मुक्त करने के नाम पर लाखों का घोटाला



फतेहपुर।आवागमन की सुविधा के लिए शासन द्वारा निरन्तर हर एक सड़क मार्ग को गड्ढा मुक्त बनाने साथ समय-समय पर मरम्मत कार्य पर विशेष रूप से जोर दिया जा रहा है  शासन की इस नीति को धरातल पर समुचित रुप से लागू करने की जिम्मेदारी जिला स्तरीय विभागीय जिम्मेदारों को दी जाती है , लेकिन फ़तेहपुर पीडब्ल्यूडी आफिस में हावी कमीशन बाजी के चलते सारे निर्देश हवा हवाई साबित रहे है, 3करोड़ 15लाख में 2015 में बनकर तैयार हुये ललौली- मुत्तौर सम्पर्क मार्ग को गड्डा मुक्त करने के लिए शाशन स्तर के लाखों रुपये का बजट जारी हुआ था, लेकिन जेइ आरपी मौर्या एवम ठेकेदार बिष्णु दुबे की जोड़ी सड़क को गड्डा मुक्त करने के लिए आवंटित लाखों रुपये मानक बिहीन काम करवा के ही निकाल लिए, लाखो खर्च के बाद भी यह मार्ग गड्डा मुक्त नही हो सका, काम के दौरान स्थानीय लोगों ने पुरजोर तरीके से इस धांधली का विरोध करके बिभागीय उच्चाधिकारियों तक बात पहुंचाई थी , और ठेकेदार के गुर्गों द्वारा करवाये जा रहे मानक बिहीन काम को रुकवा दिया गया था, जिसके बाद जेई आरपी मौर्या एवम एक्सीयन सुनील दत्त द्वारा ठेकेदार का भुगतान रोकने से लेकर पुनः बेहतर तरीके से काम करवाने का आश्वासन दिया गया था, लेकिन कमीशन खोरी के चलते कोई कार्यवाही नही हो सकी , जहां तहां ठेकेदार द्वारा भरे गड्ढे हफ्ते भर में पहिले जैसे स्त्तिथ में आ गए,  हद तो तब हो गयी जब इस 9किलोमीटर के मार्ग में 2किलोमीटर में ठेकेदार द्वारा कोइ काम ही नही करवाया गया, केवल कुछेक गड्ढो में गिट्टी डलवाकर इति श्री कर ली गयी, लाखों रुपये का बजट पानी की तरह बहाकर भी पीडब्ल्यूडी स्थानीय लोगो को तनिक भी सहूलियत नही दिलवा सका।