मानक विहीन चल रहे क्लीनिक व मेडिकल स्टोर संचालकों ने साथियों के साथ साक्ष्य मिटाने हेतु पत्रकार का छीना मोबाइल, फरार

 मानक विहीन चल रहे क्लीनिक व मेडिकल स्टोर संचालकों ने साथियों के साथ साक्ष्य मिटाने हेतु पत्रकार का छीना मोबाइल, फरार



फतेहपुर।कस्बे के टाउन हाल के पीछे कारगिल पुरम खागा निवासी सत्य प्रकाश दुबे को फर्जी डाक्टरों के खिलाफ खबर निकालना भारी पड़ा।फर्जी डाक्टरों के सारे रिकॉर्ड फोन में होने की वजह से डाक्टर ने अपने साथियों केसाथ पत्रकार का मोबाइल छीन कर फरार हो गये।जिसकी सूचना डायल 112 व लिखित तहरीर थाने व विभागीय उच्चाधिकारियो को दिया।

बताया जाता है कि दिनांक 8जनवरी2022को खागा कस्बा के रमेश कल्याणकारी इन्टर कॉलेज के पीछे नहर पटरी स्थित बिना नाम के अवैध रूप से क्लीनिक व मेडिकल स्टोर फर्जी डाक्टरों (पंकज पाल)द्वारा संचालित है।जिसकी खबर पत्रकारों ने कवरेज कर फोन में बीडियो रिकार्ड कर लिया और उसकी शिकायत विभागीय उच्चाधिकारियो को दिया गया। जिसपर उच्चाधिकारियो ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र हरदो के अधीक्षक को जांच हेतु फोन पर ही आदेशित किया। मौके पर जांच टीम देखकर वहां से डाक्टर क्लीनिक छोड़कर नदारत हो गये और क्लीनिक के एक रूप में ताला लगा कर खाना पूर्ति कर चले गए। जबकि मेडिकल स्टोर व मरीजों के बेडरूम खुले के खुले थे। तथा वहां पर मौजूद स्टाप से पत्रकार का नाम बता दिया गया।जिसकी वजह से अवैध तरीके से चल रहे क्लीनिक व मेडिकल स्टोर संचालकों ने तीन चार साथियों के साथ घेरकर पत्रकार को पकड़कर आंखों में चोटे देकर मोबाइल छीन लिया। जिसकी सूचना डायल 112 नम्बर को दिया।तब तक में पुलिस के आने से पूर्व समस्त लोग क्लीनिक में ताला लगा कर फरार हो गये।

पत्रकार ने बताया कि अवैध रूप से चल रहे क्लीनिक व मेडिकल स्टोर की शिकायत उच्चाधिकारियो से करने पर   टीम द्वारा जांच करायी गयी लेकिन टीम बिना बताए खाना पूर्ति कर चले गये। और इन्होंने बताया कि इस खुन्नस को मानते हुए संचालकों ने साथियों के साथ साक्ष्य मिटाने के लिए मोबाइल छीन कर फरार हो गये।जिसकी थाने में दे दी गई है।