महर्षि में हुआ ज्ञान युग महोत्सव का आयोजन

 महर्षि में हुआ ज्ञान युग महोत्सव का आयोजन



 फतेहपुर।केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड नई दिल्ली से सम्बद्ध महर्षि विद्या मन्दिर सीनियर सेकेण्ड्री स्कूल फतेहपुर में महर्षि महेश योगी  का जन्मदिन ज्ञान युग दिवस के रूप में मनाया गया। वेद भूमि भारत के महान सपूत एवं सन्त महर्षि  का मानना था कि हम सभी को अपने परिवार समाज, राष्ट्र व विश्व की एक प्रबुद्ध एवं क्रमबद्ध इकाई बनना चाहिए। वर्तमान में चारो ओर व्याप्त कठिनाइयों को देखते हुये हमें प्रबुद्ध एवं चेतना युक्त व्यक्तियों के समूहो की आवश्यकता है। इस लक्ष्य को प्राप्त करने हेतु हमें भावातीत ध्यान , सिद्धि कार्यक्रम एवं योगिक उड़ान की आधुनिक तकनीक महर्षि  ने सम्पूर्ण समाज को प्रदान की है। महर्षि विद्या मन्दिर समूह के अध्यक्ष ब्रम्हचारी गिरीश ने अपने सन्देश में कहा कि श्री गुरूदेव और परमपूज्य महर्षि के दैवीय आशीर्वाद से , हम सभी न केवल वर्तमान महामारी द्वारा निर्मित कठिनाइयों एवं तनावों को दूर करने में सफल होगें बल्कि साथ ही साथ भविष्य में प्रकृति के साथ सामंजस्य रखकर प्रगति भी जारी रखेगें। उन्होंने विश्व शांति की स्थापना में साहित्य की भूमिका को बताते हुये कहा कि साहित्यकार अपनी लेखनी से सभी को सुखी व समृद्ध कर सकते है। साहित्य मन के अशांति को दूर कर सम्पूर्ण वातावरण में सकारात्मक ऊर्जा का संचार करते है। हमारे धर्म ग्रंथ वेद, पुराण, उपनिषद, भगवद्गीता व रामचरित मानस विश्व कल्याण के उपदेशों से समुन्नत हैं।

विद्यालय के प्रधानाचार्य  प्रमोद कुमार त्रिपाठी ने सभी को ब्रम्हचारी गिरीश के द्वारा दिये लिखित सन्देश को पढ़कर सुनाते हुये कहा कि ऋषि परम्परा के गौरव पूज्य महर्षि महेश योगी  के आशीर्वाद से आज विश्व समुदाय भावातीत ध्यान की अनुपम तकनीकि का लाभ लेकर जीवन के हर क्षेत्र में लाभ ले रहे है। यह कार्यक्रम वर्चुवल मोड से किया गया। इस अवसर पर महर्षि विश्व शांति आन्दोलन के अध्यक्ष  करूणाशंकर मिश्रा ने अपने विचार प्रस्तुत किये। विद्यालय के शिक्षकों ने सामाजिक दूरी का पालन करते हुये सामूहिक भावातीत ध्यान और ज्ञान युग दिवस पर आयोजित कार्यक्रम का आनन्द लिया।