कोरोना मरीज को लेकर किया गया मॉक ड्रिल

 कोरोना मरीज को लेकर किया गया मॉक ड्रिल



नकली अभ्यास में मरीज को आनन-फानन में वार्ड में भर्ती कर शुरू किया गया इलाज


बिंदकी फतेहपुर।आपातकाल में कोरोना मरीज के आने पर चिकित्सकों द्वारा किस प्रकार आनन-फानन में मरीज का इलाज शुरू किया जाएगा इसका नमूना या मॉक ड्रिल या जिसे नकली अभ्यास कहा जाता है उसका प्रदर्शन किया गया आनन-फानन में मरीज को एंबुलेंस द्वारा लाया गया और स्ट्रेचर द्वारा वार्ड में ले जाकर त्वरित रूप से इलाज शुरू कर दिया गया

सोमवार को नगर के सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के कोरोना वार्ड चिकित्सकों द्वारा कोरोना मरीज को लेकर नकली अभ्यास किया गया इस बात का भी हलचल किया गया की यदि अचानक हुई कोरोना का मरीज आता है तो उसका त्वरित इलाज कैसे शुरू किया जाएगा। कोरोना का मरीज लेकर एंबुलेंस आने के पहले ही सूचना होने पर चिकित्सक पूरी तैयारी से स्पेशल लेकर अस्पताल गेट पर तैयार खड़े मिलते हैं जैसे ही एंबुलेंस आती है तुरंत मरीज को उतारा जाता है और स्ट्रेचर में लिटा कर उसे ऑक्सीजन दी जाती है इसके बाद वार्ड में ले जाया जाता है। वार्ड में पहुंचते ही मरीज की पल्स नापी जाती है तथा ऑक्सीमीटर से ऑक्सीजन की मात्रा नापी गई इस मौके पर एसीएमओ डॉ इश्तियाक अहमद अहमद नोडल प्रभारी डॉ धर्मेंद्र सिंह आदि मौजूद रहे।