सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर का आयोजन, विद्यार्थी मिलजुलकर कर रहै जन जागरण अभियान

 सात दिवसीय राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर का आयोजन, विद्यार्थी मिलजुलकर कर रहै जन जागरण अभियान 



छतरपुर।शासकीय अग्रणी कन्या स्नातकोत्तर महाविद्यालय छतरपुर के छात्र-छात्राएं जो राष्ट्रीय सेवा योजना में सहभागिता निभा रहे हैं उनका 1 सप्ताह का शिविर भारत सरकार और प्रदेश सरकार की जन कल्याणकारी योजनाएं स्वच्छ भारत अभियान नशा मुक्ति वाहन दुर्घटना रोकने दहेज एक कलंक है तथा सामाजिक समरसता के साथ-साथ विद्यार्थियों और युवाओं में आत्मनिर्भर बनने की प्रेरणा देने के लिए शिविर में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉक्टर एल एल कोरी के निर्देशन में राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर कनुप्रिया चौबे डॉ राजश्री सिसोदिया सहयोगी के माध्यम से बेटियों का सेवा ग्राम ढड़ारी छतरपुर में आयोजित किया गया छात्राओं ने संस्था के उद्देश्यों को लेकर के समूचे गांव और आसपास स्वच्छता अभियान चलाया तथा नशा मुक्ति के दुष्परिणामों के बारे में ग्रामीणों को जानकारी दी यही जागरूक किया और श्रमदान करके ग्रामीण क्षेत्र में अनेक कार्य किए  ।

राष्ट्रीय सेवा योजना कार्यक्रम अधिकारी डॉक्टर कनुप्रिया चौबे के आमंत्रण पर बुंदेलखंड के समाजसेवी राष्ट्रीय आदर्श शिक्षा रत्न उपाधि से सम्मानित संतोष गंगेले कर्मयोगी द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर में पहुंचे छात्राओं द्वारा उनका स्वागत किया गया बेटी पूजन और सम्मान के बाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता संतोष गंगेले कर्मयोगी ने कहा कि विद्यार्थी जीवन अमूल्य होता है समय का सदुपयोग करना इसी समय भविष्य का निर्माण होता है । भारत सरकार द्वारा 24 सितंबर 1969 को राष्ट्रीय सेवा योजना की स्थापना की राष्ट्रीय सेवा योजना के माध्यम से विद्यालय महाविद्यालय में बच्चों में देश प्रेम की भावना सामाजिक क्षेत्र में काम करने की प्रेरणा तथा जीवन में मानवता के साथ समाज में जीने की कला सीखने का अवसर होता है इस अवसर पर उन्होंने भारतीय महिलाओं के सशक्तिकरण और बेटियों के भविष्य को लेकर विचार गोष्ठी में अपने अत्यंत महत्वपूर्ण विचारों से बच्चों को प्रभावित किया ।  राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर में डॉ पूर्णिमा रावत डॉ शशि प्रभा परिहार डॉक्टर किशोरी सोनी डॉक्टर सौरव जी द्वारा अपने-अपने विचारों से बच्चों को मोटिवेट किया गया कार्यक्रम में कुमारी सपना वर्मा द्वारा सरस्वती वंदना कुमारी कविता है वार द्वारा स्वागत गीत एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के बारे में विचार रखें कुमारी किरण अहिरवार मैं अपने विचार रखते हुए बेटियों के भविष्य को लेकर विचार किया ।

राज्य स्तरीय शिविर के स्वयंसेवक शिवानी मिश्रा द्वारा राष्ट्रीय सेवा योजना की आधारशिला पर प्रकाश डाला गया कुमारी प्रथा राजे बुंदेला द्वारा शिक्षक एवं विद्यार्थी के बीच की परंपरा का निर्वहन करने तथा भारतीय संस्कृति संस्कारों पर विद्यार्थी के जीवन को महत्वपूर्ण बताया अनेक छात्राओं ने सांस्कृतिक कार्यक्रमों के माध्यम से विशेष गीत गायन नृत्य एवं मांगलिक गीत प्रस्तुत किए अनेक बेटियों ने चित्रकला के माध्यम से राष्ट्रीय सेवा योजना शिविर में अपनी सहभागिता निभाई । कार्यक्रम में मुख्य वक्ता समाजसेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी द्वारा द्वारा जो विचार दिए गए शिविर में शामिल सभी प्रोफ़ेसर गाना और छात्राओं ने उनके विचारों की सराहना की डॉक्टर राजश्री सिसोदिया द्वारा अतिथि का आभार व्यक्त किया गया । कार्यक्रम समापन के बाद सामाजिक समरसता सहभोज का आयोजन भी किया गया ।