यूक्रेन से बाँदा पहुँचे छात्र ने बताया तिरंगा झंडे को देख सेना के कमांडो नही करते थे चेकिंग,

 यूक्रेन से बाँदा पहुँचे छात्र ने बताया तिरंगा झंडे को देख सेना के कमांडो नही करते थे चेकिंग, 



बाँदा संवाददाता। यूक्रेन से बाँदा पहुँचे छात्र नीरज ने की भारत सरकार की तारीफ कहा कि रोमानिया की सरकार और लोगो ने बहुत की मदद यूपी के बांदा जनपद में पहुँचे मेडिकल स्टूडेंट ने बताया कि बस में तिरंगे झंडे की वजह से दोनों देशों की सेना चेकिंग नही  करती थी, ऑपरेशन गंगा में मोदी सरकार की वजह से हम लोग सुरक्षित वापस अपने देश आ पाए हैं। रोमानिया के लोग और सरकार बहुत अच्छी है, उन्होंने हमारी हर तरीके से मदद की है। बगैर बीजा के बॉर्डर क्रॉस करवाया। यूक्रेन में हालात दिन पर दिन खराब होते जा रहे हैं, बस बम, मिसाइल के धमाकों के अलावा कुछ नही सुनाई देता था। हम सभी मेडिकल स्टूडेंट्स बहुत घबराए हुए थे, न तो खाने के लिए कुछ बचा था न कुछ और। हम लोगो को यूनिवर्सिटी से बस द्वारा रोमानिया बॉर्डर पर भेजा गया था। अभी भी बहुत से छात्र यूक्रेन में फसें हुए हैं। मैं इवानो शहर में था। जहां से बॉर्डर लगभग 1500 किलोमीटर की दूरी पर है। 

भारत वापस लौटने पर जान में जान आयी थी, क्योंकि हम लोग बहुत घबराए हुए थे। परिजनों ने बेटे के घर लौटने पर फूल माला से स्वागत किया और कहा कि हमारा बेटा सरकार के प्रयास बापस लौटा है, हम सरकार को धन्यवाद देते हैं। सरकार इसी तरह सभी बच्चों को सुरक्षित घर वापस लौटाने का कार्य करें।