सरल व्यक्ति को मिल जाते है भगवान :निशी जी

 सरल व्यक्ति को मिल जाते है भगवान :निशी जी




गिरिराज शुक्ला

बिंदकी फतेहपुर

मलवा विकास खंड के बहरौली गांव में चल रहे पांच दिवसीय रामचरित मानस कथा के तृतीय दिवस चित्रकूट से आई मानस रामायणी निशी दीदी ने भक्त और भगवान के बीच संबंधों पर प्रसंग सुनाए।उन्होंने कहा भगवान सरलता के प्रिय है।श्री राम उन्हे ही मिलते है जो सरल होता है।जब जीवन में सरलता जैसे गुणों का प्रादुर्भाव होता है तो श्री राम से सन्निकटता बड़ जाती है।सरलता से भगवान प्रसन्न हो जाते है।भगवान और भक्त के बीच सरलता का रिश्ता होता है।सरल व्यक्ति सबका प्रिय होता है।सहजता का सुख हर किसी को नहीं मिलता है जो भगवान की भक्ति सच्चे मन से करता है उसे सहज ही सुख प्राप्त हुआ करता है।झीझक से आए मानस मर्मज्ञ आलोक जी शुक्ल ने कहा मानस कथा हमे काम,क्रोध,लोभ,मोह, दुर्गुण,दुर्विचारो का त्याग करना सिखाती है प्रभु श्री राम सा त्याग और भरत सा तप जीवन को महान बना देता है।आरती के बाद प्रसाद वितरित किया गया।पवन तिवारी,रामशरण सिंह,रामचंद्र सिंह,अंकित सिंह,जितेंद्र सिंह,रामप्रकाश सिंह,हर्षित सिंह,लवकुश सहित तमाम लोग रहे।