स्वास्थ्य बालक बालिका स्पर्धा अभिमुखीकरण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न

 स्वास्थ्य बालक बालिका स्पर्धा अभिमुखीकरण कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए मुख्य विकास अधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न



फतेहपुर।स्वास्थ्य बालक बालिका स्पर्धा अभिमुखीकरण  कार्यक्रम को सफल बनाने हेतु बैठक/कार्यशाला  विकास भवन सभागार में मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई । उन्होंने कहा कि पोषण अभियान अंतर्गत पोषण के विषय में जागरूकता एवं जन भागीदारी बढ़ाते हुए बच्चों के पोषण स्तर में सुधार हेतु व्यवहार परिवर्तन करते हुए पोषण के अभियान को जन आन्दोलन बनाने की दिशा में जनपद के प्रत्येक आंगनबाड़ी केन्द्र, पंचायत स्कूल, प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पर विशेष कैम्प का आयोजन करते हुए स्वस्थ बालक बालिका स्पर्धा दिनांक 21 मार्च से 27 मार्च, 2022 तक आयोजित किया जाना है। स्वैच्छिक संस्थाओं के प्रतिनिधिगण बाल विकास सेवा एवं पुष्टाहार विभाग की पोषण ट्रैकर की वेवसाइट पर अपनी संस्था का रजिस्ट्रेशन  कराना सुनिश्चित करा ले  ताकि स्वास्थ्य बालक बालिक स्पर्धा कैंम्प में अपनी सक्रिय भूमिका निभा सके।  रजिस्ट्रेशन के बारे में विस्तृत जानकारी के साथ रजिस्ट्रेशन भी किया गया। इस अभियान में जो  स्वैच्छिक संस्था अच्छा कार्य करेगी उन संस्थाओ को सम्मानित भी किया जायेगा। आँगनवाड़ी केंद्र की सीमा के बाहर सभी नगर पालिका परिषद/नगर पंचायत के लाभार्थियों के वजन व लम्बाई को क्षेत्र में सक्रिय एन.जी.ओ के द्वारा लक्ष्य समूह के लाभार्थियों के वजन व लम्बाई की माप करेंगे तथा समीप के आँगनवाड़ी केंद्र/परियोजना द्वारा इनका पूर्ण सहयोग किया जायेगा।बाल विकास विभाग की ओर से स्वस्थ बालक-बालिका स्पर्धा अभियान 21 से 27 मार्च तक चलाया जाएगा। कार्यक्रम के उद्देश्य 0-6 वर्ष तक के बच्चों के पोषण स्तर में सुधार लाना। स्वस्थ बच्चे पर कुपोषित बच्चे की तुलना में ज्यादा ध्यान देना। समुदाय का बच्चे के स्वास्थ्य एवं पोषण को भावनात्मक स्तर से जोड़ना तथा समुदाय को स्वास्थ्य एवं पोषण के बारे में जागरूक करना। समुदाय में अभिभावकों के मध्य अपने बच्चे को स्वस्थ व सुरक्षित रखने हेतु प्रतिस्पर्धात्मक माहौल तैयार करना। बैठक में जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री राजीव सिंह, जिला समाज कल्याण अधिकारी के0एस0 मिश्रा, बेसिक शिक्षा अधिकारी, सीडीपीओगण, स्वैच्छिक संस्थाओं के प्रतिनिधिगण सहित अन्य सम्बन्धितगण उपस्थित रहे।