आइआइटी कानपुर के प्रो. मणीन्द्र अग्रवाल बोले- अब कोरोना की चौथी लहर आने की आशंका नहीं

 आइआइटी कानपुर के प्रो. मणीन्द्र अग्रवाल बोले- अब कोरोना की चौथी लहर आने की आशंका नहीं



न्यूज़।भले ही कोरोना के मामले बढ़ना शुरू हुए हैं लेकिन कोरोना की चौथी लहर आने की आशंका फिलहाल नहीं है। वातावरण में कोरोना वायरस के जो पुराने म्यूटेंट हैं, वही अपना असर दिखा रहे हैं। इसकी वजह एक तो स्कूल-कालेज खुल चुके हैं और ज्यादातर लोगों ने मास्क लगाना भी बंद कर दिया है। यह कहना है गणितीय सूत्र माडल के आधार पर कोरोना की भविष्यवाणी करने वाले भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आइआइटी) कानपुर के विज्ञानी पद्मश्री प्रो. मणीन्द्र अग्रवाल का। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस के जो भी पुराने म्यूटेंट हैं, वह खत्म नहीं हुए है,कोरोना वैक्सीनेशन होने और 90 प्रतिशत लोगों में नेचुरल इम्युनिटी विकसित हो चुकी है। इस वजह से पुराने म्यूटेंट का प्रभाव अब ज्यादा नजर नहीं आता है, लेकिन अगर लोग सुरक्षात्मक प्रक्रिया में लापरवाही करेंगे तो ये म्यूटेंट फिर से अपना असर दिखा सकते हैं। जिनकी रोग प्रतिरोधक क्षमता कमजोर है, उन पर प्रभाव ज्यादा नजर आ सकता है।,हाल ही में विभिन्न शहरों में कोरोना वायरस के जो नए केस सामने आए हैं, यह इसी का परिणाम हैं। इन केसों की संख्या इतनी कम है कि इसे चौथी लहर नहीं कहा जा सकता है। लोग वायरस के संक्रमण से बचने के लिए मास्क लगाकर निकलें और सैनिटाइजर आदि सुरक्षात्मक तरीकों का इस्तेमाल करते रहें। स्कूल-कालेजों में बच्चों को भी मास्क लगाने के लिए कहें और जिन लोगों ने अभी तक वैक्सीनेशन नहीं कराया है, वह वैक्सीनेशन जरूर करा लें।

Popular posts
सदर कोतवाली के अंतर्गत राधा नगर चौकी क्षेत्र में "सीमा क्लीनिक" नाम का अदौली रोड में डॉक्टर ने गर्भपात करने की खोल रखी है मौत की दुकान
चित्र
घर में घुसकर युवती की गला रेतकर निर्मम हत्या
चित्र
अवैध सीमा क्लीनिक में भ्रूण हत्या का धंधा जोरों पर जारी
चित्र
रफ्तार का कहर, महिला को ट्रक ने रौंदा घटनास्थल पर महिला की हुई मौत,
चित्र
वर्तमान ग्राम प्रधान ने पूर्व ग्राम प्रधान पर ग्राम प्रधान ग्राम समाज की जमीन पर अवैध कब्जा करने का लगाया आरोप
चित्र