अधिकारी लापरवाह, खनन माफियाओ ने रौंद डालीं सड़कें

 अधिकारी लापरवाह, खनन माफियाओ ने रौंद डालीं सड़कें



खागा तहसील में खनन माफिया बेखाैफ,  यहां रातों दिन होता है अवैध खनन


बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय ने केंद्र और प्रदेश सरकार से बरसात से पूर्व सड़को के निर्माण की मांग की


गढ़ा सरौली मार्ग , धाता हिनौता मार्ग , गुरवल रामपुर मार्ग का हाल है बेहाल


फतेहपुर / खागा : उत्तर प्रदेश में मुख्यमंत्री आदित्यनाथ की सरकार दूसरी बार बनने के बाद माफियाओं पर लगातार कारवाई हो रही है l  लेकिन फतेहपुर के खागा तहसील में बालू खनन माफियाओं को योगी सरकार का जरा भी भय नहीं हैं l खनन माफियाओं ने धाता थाना रानीपुर खंड और किसनपुर थाना अंतर्गत गुरवल में अवैध बालू के खनन के लिए मां कालिंदी की धारा रोक कर कर रहे है खनन l


रात दिन चल रहा अवैध  खनन का खेल

अवैध खनन के लिए खनन माफियाओं द्वारा  धारा के प्रवाह को रोककर  रास्ता बनाया गया है l स्थानीय लोगों का कहना है कि खनन के लिए  रास्ता बनाया गया है l  माफियाओं द्वारा  जेसीबी और डम्फर के जरिए खनन को अंजाम दिया जाता है l नाम न लिखने की शर्त पर एक बुजुर्ग ने बताया की रात में जेसीबी और डंफर के जरिए खनन को अंजाम दिया जाता है l 


पुलिस प्रशासन की नाक के नीचे चल रहा खेल


ग्रामीणों का कहना है की रात में हो रहे अवैध खनन के कारण गुजारने वाले वाहनों की आवाज से वह सो नहीं पाते l  वहीं पुलिस द्वारा इस कारवाई के संबंध के सवाल पर ग्रामीणों का कहना था कि यह सब पुलिस की ही सह पर हो रहा lगांव के लोगो ने बताया कि तय है महीनेदारी इसलिए नही होती कार्यवाही।थाना कोई भी हो उनकी जेब में आसानी से खनन माफियाओं के द्वारा पहुंचा दिया जाता है।  जिसके चलते पुलिस के सामने खड़े होकर भी अवैध खनन की गाड़ियां दिन हो या रात उनके सामने से होकर गुजरती रहती हैं और पुलिस पीठ फेर कर खड़ी हो जाती है।गंगा समग्र और बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के स्वयंसेवकों द्वारा मां कालिंदी को बचाने के लिए मुहिम चलाई गई है l जिसमे समाजसेवियों का सहयोग मिल रहा है l बुंदेलखंड राष्ट्र समिति के केंद्रीय अध्यक्ष प्रवीण पाण्डेय बुंदेलखंड राज्य निर्माण हेतु प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अपने पूरी टीम के साथ बुंदेलखंड के सभी जिलों से छब्बीस बार खून के पत्र लिख चुके हैं l समिति द्वारा

छतरपुर का बक्सवाहा जंगल को बचाने का आंदोलन किया जा चुका है l समिति द्वारा खनन प्रभावित गांव की सड़को को चौड़ीकरण कर गुणवत्ता पूर्ण निर्माण की मांग केंद्र व प्रदेश सरकार से लंबे समय से की जा रही है l

        बरसात से पहले अगर मार्ग का निर्माण नहीं होता तो गावों के लोगो का जन जीवन और बद्दतर हो जाएगा l ग्रामीणों ने दुखी मन से कहा इस सरकार से हमे बहुत उम्मीदें है लेकिन अधिकारी  अच्छी सड़को पर चलने का अधिकार छीन रखा है l