दुनिया भर में 8वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लोगों नें किया योग ब्लाक प्रमुख शशि - रमनजीत सिंह दिलाया संकल्प

 दुनिया भर में 8वां अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर लोगों नें किया योग ब्लाक प्रमुख शशि - रमनजीत सिंह दिलाया संकल्प



खण्ड विकास अधिकारी मलवाँ ने  आधा सैकडा से ज्यादा लोगों के साथ किया योगाभ्यास 


बी.डी.ओ ने योग की शुरुआत 


ताड़ासन, त्रिकोणासन, भद्रासन जैसे आसनों से की


चौडगरा (फतेहपुर)। जनपद में योगा डे के मौके पर खण्ड विकास मलवाँ ब्लाक सभागार में योग का महत्व बताया गया।

जहाँ ब्लाक प्रमुख मलवाँ शशि-रमनजीत सिंह ने योगा का महत्तव बताते हुए कहा कि-'साथियों दुनिया के लोगों के लिए योग सिर्फ 'पार्ट ऑफ लाइफ' नहीं है बल्कि अब 'वे ऑफ लाइफ' बन रहा है। हमने देखा है कि हमारे यहां घर के बड़े, हमारे योग साधक दिन के अलग-अलग समय में प्राणायाम करते हैं, फिर दोबारा काम शुरू करते हैं। हम कितने भी तनाव में हों कुछ मिनट का योग हमारी पॉजिटिविटी और प्रोडक्टिविटी को बढ़ा देता है। हमें योग को पाना भी है, पनपाना और जीना भी है।'

आज योग मानव मात्र को निरोगी जीवन का विश्वास दे रहा है। हम आज सुबह से देख रहे हैं कि योग की तस्वीरें जो कुछ वर्ष पहले आध्यात्मिक केंद्रों पर दिखती थीं, वो आज विश्व के कोने-कोने में दिख रही हैं। 

खण्ड विकास अधिकारी मलवाँ पारूल कटियार नें आगे बताया कि - 'देश आजादी की 75वीं सालगिरह मना रहा है। ऐसे में देश के 75 ऐतिहासिक केंद्रों पर एक-साथ योग किया जा रहा है। यह भारत के अतीत को भारत की विविधिता को एक सूत्र में पिरोने जैसा है। दुनिया के अलग-अलग देशों में सूर्योदय के साथ लोग योग कर रहे हैं। जैसे-जैसे सूर्य आगे बढ़ रहा है उसकी प्रथम किरण के साथ लोग अलग-अलग देशों में लोग साथ जुड़ते जा रहे हैं।

वहीं, ग्राम पंचायत मौहार में प्रधान नरेंद्र सिंह नें  प्रशिक्षित योगा ट्रेनर के साथ  मंगलवार की सुबह लोगों को योगाभ्यास कराया. इस दौरान सैकड़ों की संख्या में महिलाएं और बच्चे मौजूद रहे। बता दें कि खण्ड विकास अधिकारी मलवाँ ने कई योगासन किए और सभी को फिटनेस का संदेश दिया।

इस अवसर शशि- रमनजीत सिंह ने कहा, ”हमें योग को एक अतिरिक्त काम के तौर पर नहीं लेना है। हमें योग को जानना है और जीना भी है, अपनाना भी है, पनपाना भी है। जब हम योग को जीने लगेंगे तब योग दिवस हमारे लिए योग करने का नहीं बल्कि अपने स्वास्थ्य, सुख, और शांति का जश्न मनाने का माध्यम बन जाएगा। योग मानव मात्र को निरोग जीवन का विश्वास दे रहा है।”

सूरज सिंह शाक्य A.D.O Ag ने भी योग दिवस पर योग किया। उन्‍होंने कहा कि योग प्रचीन भारतीय विरासत का हिस्‍सा रहा है। यह मानवता के लिए एक उपहार है।

 हमें प्रतिदिन चार से पांच आसन जरूर करने चाहिए। उन्‍होंने कहा कि योग सभी के लिए है इसे किसी धर्म या राजनीति के चश्‍मे से न देखें।