भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चौधरी ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया, आठ मंत्री और बन सकते हैं

 भाजपा प्रदेश अध्यक्ष चौधरी ने मंत्री पद से इस्तीफा दिया, आठ मंत्री और बन सकते हैं    



न्यूज़।भूपेंद्र चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष के दायित्व के सम्यक निर्वहन के लिए मंत्रिमंडल से त्यागपत्र दिया। उन्होंने प्रधानमंत्री मोदी और मुख्यमंत्री योगी का आभार जताया है।     भाजपा के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष भूपेंद्र चौधरी ने प्रदेश सरकार में पंचायतीराज मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया है। चौधरी ने मंगलवार सुबह ट्वीट कर मंत्री पद से त्याग पत्र देने की जानकारी साझा की। उधर, भाजपा के सिद्धांत का उल्लंघन करते हुए प्रदेश सरकार के पांच मंत्री अब भी पार्टी के पद पर भी बने हुए है।भाजपा में एक व्यक्ति एक पद का सिद्धांत है। लिहाजा चौधरी को प्रदेश अध्यक्ष बनाए जाने के बाद उनकी ओर से मंत्री पद से इस्तीफा देना तय था। चौधरी ने सोमवार को प्रदेश अध्यक्ष पद की विधिवत कमान संभालने के बाद मंगलवार को मंत्री पद से इस्तीफा दे दिया।चौधरी ने ट्वीट कर कहा कि भाजपा प्रदेश अध्यक्ष पद के दायित्व के सम्यक निर्वहन के लिए मंत्री पद से त्यागपत्र दिया है। उन्होंने अपने पहले और दूसरे कार्यकाल में पंचायतीराज मंत्री के रूप में प्रदेश की जनता का सेवा का अवसर प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार जताया है। उन्होंने अनेक अवसरों पर मार्गदर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का भी आभार जताया। प्रदेश सरकार की ओर से चौधरी का इस्तीफा स्वीकार करने के लिए राज्यपाल को संस्तुति भेजी गई।

यह कर रहे पार्टी के सिद्धांत का उल्लंघन

प्रदेश सरकार में ऊर्जा एवं नगरीय विकास मंत्री अरविंद कुमार शर्मा पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष भी है। महिला एवं बाल कल्याण मंत्री बेबी रानी मौर्य पार्टी की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी है। सहकारिता राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार जेपीएस राठौर पार्टी के प्रदेश महामंत्री है, परिवहन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार दयाशंकर सिंह पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष है। पिछड़ा वर्ग कल्याण मंत्री नरेंद्र कश्यप पार्टी में ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष है।

आठ मंत्री और बन सकते हैं

विधानसभा सदस्यों की कुल संख्या का 15 फीसदी तक मंत्री बनाए जा सकते है। प्रदेश में 403 विधायकों की संख्या के हिसाब से प्रदेश सरकार के मंत्रिमंडल में अधिकतम 60 सदस्य हो सकते है। पंचायतीराज मंत्री भूपेंद्र चौधरी के इस्तीफे के बाद वर्तमान में मुख्यमंत्री, दो उप मुख्यमंत्री, 15 कैबिनेट मंत्री, 14 राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार और 20 राज्यमंत्री सहित कुल 52 मंत्री है। मंत्रिमंडल में आठ मंत्री और बनाए जा सकते है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
उत्तर प्रदेश सोशल ऑडिट समिति ने केंद्रीय राज्य मंत्री कौशल किशोर को नशा मुक्त भारत हेतु किया सम्मानित
चित्र
राजकीय धान केंद्र में हो रही धांधली
चित्र
फतेहपुर की दो नगर पालिका व आठ नगर पंचायतों की चेयरमैन आरक्षण सूची जारी
चित्र
बोलेरो गाड़ी चोरी करने वाले तीन अभियुक्तों को तिंदवारी पुलिस ने किया गिरफ्तार, बोलेरो गाड़ी बरामद
चित्र
अंत्योदय अन्न योजना एवं पात्र गृहस्थी कार्ड धारकों को 5 दिसंबर से 14 दिसंबर तक मिलेगा राशन
चित्र