सदस्य उ०प्र० राज्य महिला आयोग की अध्यक्षता में महिला उत्पीड़न की घटनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न

 सदस्य उ०प्र० राज्य महिला आयोग की अध्यक्षता में महिला उत्पीड़न की घटनाओं की समीक्षा बैठक संपन्न



जनसुनवाई मे 5 महिलाओं द्वारा की गई शिकायत


फतेहपुर।सदस्य सचिव उ०प्र० राज्य महिला आयोग के निर्देशानुसार सिंचाई विभाग के निरीक्षण भवन में श्रीमती अनीता सचान, सदस्य उ०प्र० राज्य महिला आयोग की अध्यक्षता में महिला उत्पीड़न की घटनाओं की समीक्षा बैठक के साथ- साथ उपस्थित महिलाओं द्वारा प्रस्तुत नवीन प्रार्थना पत्रों की जनसुनवायी की गयी। जनसुनवायी के दौरान कुल 05 महिलाओं द्वारा उत्पीड़न शिकायती प्रार्थना पत्र प्रस्तुत किये गये, जिनकी सुनवायी के उपरान्त सम्बन्धित विभागों को प्रार्थना पत्र जांचोपरान्त कार्यवाही किये जाने हेतु सन्दर्भित किया गया तथा दूरभाष द्वारा सम्बन्धित थाने / विभाग के अधिकारियों को आवश्यक कार्यवाही करने हेतु निर्देशित किया गया तथा 01 शिकायत का मौके पर निस्तारण किया गया साथ-साथ यह भी निर्देशित किया गया कि शासन की मंशा के अनुरूप मिशन शक्ति 4.0 के अन्तर्गत जनपद के समस्त विभागों से समन्वय स्थापित करते हुए शासन की योजनाओं का लाभ निचले स्तर तक पहुंचाना सुनिश्चित करें। उक्त जनसुनवाई कार्यक्रम में श्रीमती रोमा गुप्ता, सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण फतेहपुर, अजेन्द्र सिंह, उप जिलाधिकारी, फतेहपुर नीरज कुमार, जिला प्रोबेशन अधिकारी फतेहपुर अनिल कुमार, प्रभारी निरीक्षक महिला सहायता प्रकोष्ठ फतेहपुर श्रीमती कान्ती, महिला थानाध्यक्ष फतेहपुर, डा० आर०के० सिंह, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी फतेहपुर उमाशंकर, छात्रावास अधीक्षक जिला समाज कल्याण विभाग फतेहपुर, श्रीमती सरिता भारती, जिला समन्वयक महिला शक्ति केन्द्र, श्रीमती मधुरिमा केस वर्कर वन स्टाप सेन्टर फतेहपुर,राहुल शुक्ला, जिला प्रोबेशन कार्यालय फतेहपुर आदि उपस्थित रहे।

उक्त समीक्षा बैठक के उपरान्त मिशन शक्ति अभियान 4.0 के अन्तर्गत विकास खण्ड बहुआ में जन जागरूकता चौपाल का आयोजन किया गया जहाँ उपस्थित गर्भवती महिलाओं की गोदभराई एवं अन्यप्राशन कार्यक्रम आयोजित किया गया तथा विभागों द्वारा संचालित महिला परक योजनाओं के सम्बन्ध में जानकारी उपलब्ध कराते हुए उपस्थित महिलाओं से अपेक्षा की गयी महिला परक योजनाओं का ग्रामीण स्तर तक प्रचार-प्रसार कराये जाने के साथ योजनाओं का लाभ प्रदान कराया जाए जिसके अधिकाधिक लाभार्थियों को विभागों द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ प्राप्त हो सके तदोपरान्त कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय, शाह का औचक निरीक्षण किया गया तथा वहाँ उपस्थित अधीक्षिका एवं खण्ड शिक्षा अधिकारी को निर्देशित किया गया कि विद्यालय की साफ-सफाई एवं रसोईया की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान रखते हुए निर्धारित मेन्यू के अनुसार छात्राओं को नाश्ता एवं भोजन समयानुसार दिया जाए तथा यह भी सुनिश्चित किया कर लिया जाए कि आवासीय विद्यालय में पढने वाली पात्र लाभार्थियों का कन्या सुमंगला योजना के आवेदन पत्र भराये गये है कि नहीं यदि नहीं भरवायें गये तो प्राथमिका के आधार पर पात्र लाभार्थियों का कन्या सुमंगला योजना के आवेदन पत्र भरवा लिये जाए।