बेटी को जो दे नशा मुक्त पहचान,वही माता-पिता है महान.. ज्योति बाबा

 बेटी को जो दे नशा मुक्त पहचान,वही माता-पिता है महान.. ज्योति बाबा 



ईश्वर की सौगात है बेटी...कौशल किशोर 


आज के युग का अभिमान है बेटी...कौशल किशोर 


ना करो तिरस्कार,बेटी है कुदरत का उपहार...मनोज के गुप्ता 


घर का संस्कार है बेटी...कौशल किशोर 


कानपुर/लखनऊ। बेटियां सब के मुकद्दर में कहां होती हैं, घर खुदा को जब पसंद आता है बस वही बेटियां होती हैं, नशा मुक्त घर की जान होती हैं बेटियां,यूं समझ लो कि बेमिसाल होती हैं बेटियां उपरोक्त जागरूक पंक्तियां विश्व बालिका दिवस के परिप्रेक्ष्य में नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के तहत सोसाइटी योग ज्योति इंडिया के तत्वाधान में आयोजित वेबीनार शीर्षक जागरूक कविताएं और सशक्त बालिका "ईश्वर की सौगात है बेटी" पर केंद्रीय शहरी विकास एवं आवासन राज्य मंत्री कौशल किशोर ने मुख्य अतिथीय संबोधन में कहीं,उन्होंने आगे कहा कि अंतरराष्ट्रीय बालिका दिवस विश्व के 50 से ज्यादा देशों में बड़े उल्लास के साथ स्त्री शक्ति के प्रति जागरूक करने के लिए विभिन्न समारोह आयोजित कर मनाया जाता है मेरा संदेश यही है कि नशा मुक्त युवा भारत के संकल्प को साकार करने के लिए मातृशक्ति निखर कर आगे आए। अंतरराष्ट्रीय नशा मुक्त अभियान के प्रमुख,नशा मुक्त समाज आंदोलन अभियान कौशल के नेशनल ब्रांड एंबेसडर योग गुरु ज्योति बाबा ने कहा कि देश में जिन क्षेत्रों को अब तक नशा मुक्त अभियान में सफलता मिली है वह अधिकतर स्त्री शक्ति के कारण ही संभव हो पाया है हम इस दिन यह संकल्प करते हैं कि स्त्री पुरुष में कोई भेद नहीं करते हुए उनको सम्मान स्वाभिमान से जीने के साथ आर्थिक स्वतंत्रता दिलाने का कार्य करेंगे,योग गुरु ज्योति बाबा ने नारी शक्ति को कविता के माध्यम से रेखांकित किया कि सर्दियों में धूप जैसी,देवी का रूप जैसी,बेकरारी में राहत जैसी,खुशियों की आदत जैसी,सुहानी शाम ओ सहर जैसी, रब की मेहर जैसी,उमा और सिया जैसी,मंदिर के दिया जैसी। आंदोलन के प्रदेश संरक्षक मनोज के गुप्ता ने कहा कि जीने का उसको भी अधिकार,चाहिए उसे थोड़ा सा प्यार,जन्म से पहले ना उसे मारो,कभी तो अपने मन में विचारों,शायद वही बन जाए सहारा,डूबते को मिल जाए किनारा। रेलवे बोर्ड के सलाहकार सदस्य कमरुद्दीन उर्फ जुगनू ने कहा कि खुदा की इनायत जैसी,जन्नत की जियारत जैसी,कायनात पर रहमत जैसी,कुदरत की बरकत जैसी,फिजा में बाहर जैसी,बेबसी में करार जैसी। सोशल ऑडिट की प्रदेश महिला अध्यक्ष प्रीति सोनी व योग ज्योति इंडिया की प्रदेश उपाध्यक्ष अंजु सिंह,वूमेन एक्टिविस्ट गीता पाल ने संयुक्त रूप से कहा कि सद्भाव भरे शब्द बोल कर बड़े-बड़े भाषण देते हो,दहेज की बेटी भी जलती है क्यों नहीं बहू बचाता है कोई नारी हित में कदम उठाकर अब मिसाल बना दो हर कोई वेबीनार का संचालन जिला प्रभारी बाराबंकी सुमित राज व धन्यवाद जिला प्रभारी लखनऊ अनिल अग्रवाल ने दिया अंत में सभी को बेटी बचाओ नशा हटाओ का संकल्प योग गुरु ज्योति बाबा ने कराया अन्य प्रमुख मोनू रावत,रोहित मुंबई से,भोला जैन आगरा से, जगदंबा त्रिपाठी लखनऊ,राजेश दुबे औरैया से इत्यादि थे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
तेज रफ्तार रोडवेज बस अनियंत्रित होकर खाई मे जा पलटी
चित्र
हुसैनगंज थाना पुलिस और क्राइम ब्रांच टीम ने मिलकर चोरी की 10 मोटरसाइकिल के साथ दो लोगों को किया गिरफ्तार
चित्र
मानसिक विक्षिप्त लड़की के साथ अस्पताल के कर्मचारी ने किया दुष्कर्म का प्रयास
चित्र
जिलाधिकारी ने 20 से 25 फीसदी से कम दर पर कृषि यंत्र उपलब्ध कराने के लिए निर्देश
चित्र
प्रदेश कमाने गए पति की गैरमौजूदगी में महिला के साथ पड़ोसियों ने किया बदसलूकी
चित्र