मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले 37 बिंदुओं के विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ संपन्न

 मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले 37 बिंदुओं के विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक जिलाधिकारी की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ संपन्न



फतेहपुर। मुख्यमंत्री के प्राथमिकता वाले 37 बिन्दुओ के विकास कार्यक्रमों की समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में जिलाधिकारी श्रीमती श्रुति की अध्यक्षता में जनपद स्तरीय अधिकारियों के साथ संपन्न हुई। बैठक में कृषि, सिंचाई, शिक्षा, माध्यमिक शिक्षा, सड़क, स्वास्थ्य, पशुपालन, उद्यान, पंचायती राज, आवास, विद्युत आदि विभागों की बिंदुवार समीक्षा की। उन्होंने समीक्षा के दौरान कहा कि लोक निर्माण विभाग की निर्माण खंड-2, प्रान्तीय खंड कार्यदायी संस्था से जनपद में सड़क चौड़ीकरण एवं मेंटिनेंस का कार्य चल रहा है, अधिशाषी अभियंता अपनी-अपनी सड़को का स्वयं निरीक्षण करते हुए प्रगति की रिपोर्ट मयफोटो सहित उपलब्ध कराने के निर्देश दिए। साथ ही के कार्यो में लापरवाही/शिथिलता क्षम्य नही होगी। उन्होंने कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में यदि विद्युत की समस्या आती है तो उसका निस्तारण अधिशाषी अभियंता प्राथमिकता के आधार पर संवेदनशीलता के साथ कराना सुनिश्चित करे । उन्होंने कहा कि गौशालाओं में गौवंशो की ईयर टैगिंग शत प्रतिशत कराना सुनिश्चित करे साथ ही ईयर टैग का स्टाक जनपद में कितना है, कि रिपोर्ट से अवगत कराएं, टीकाकरण के कार्य मे तेजी लेकर शत प्रतिशत कराया जाय। साथ ही ऐनाफ पोर्टल पर फीड शत प्रतिशत कराया जाय। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री सहभागिता योजनान्तर्गत अधिक से अधिक दुधारू गायो को प्रेरित करते हुए दी जाय।  उन्होंने कहा कि कृषि विभाग से सोलर पम्प के लिए जितने आवेदन पत्र स्वीकृत हुए है उनका शत प्रतिशत वितरण सुनिश्चित किया जाय। स्वास्थ्य विभाग, प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत योजना(गोल्डन कार्ड) के तहत गोल्डन कार्ड बनवाने में तेजी लायी जाय और संबंधित एजेंसी से फालोअप समय समय पर लेटे रहे। साथ ही गोल्डन कार्ड के ज्यादा से ज्यादा लाभार्थियों को योजना से उपचार/ लाभ दिलाना सुनिश्चित करे। उन्होंने कहा कि परिवार नियोजन(नसबंदी) के लक्ष्य को समय से पूरा करने के लिए मुख्यचिकित्साधिकारी बेहतर कार्ययोजना बनाकर लोगो को जागरूक करते हुए लक्ष्य को पूरा कराये। उन्होंने कहा कि पंचायती विभाग के शेष बचे पंचायत भवनों का निर्माण कार्य चल रहा है, को जल्द से पूरा कराये । साथ ही शासन द्वारा निर्धारित सामुदायिक शौचालय के खुलने का समय की रिपोर्ट से अवगत कराएं। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के अंतर्गत शासन द्वारा निर्धारित लक्ष्य शेष है का प्रचार प्रसार कराते हुए नियमानुसार सभी कार्यवाही पूर्ण करते हुए विवाह संपन्न कराये जाए।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी सूरज पटेल, मुख्यचिकित्साधिकारी डॉ0 सुनील भारती, परियोजना निदेशक डीआरडीए एमपी चौबे, डीसी मनरेगा अशोक कुमार गुप्ता, डीसीएनआरएलएम सहित अनेक जिला स्तरीय अधिकारीगण एवं कार्यदायी संस्थाये सहित सम्बन्धित उपस्थित रहे।

टिप्पणियाँ
Popular posts
विकास को 7 बार किस सांप ने काटा? सामने आई सच्चाई, अफसरों ने सुलझाई सच और झूठ की पहेली
चित्र
विप्लवी ने असिस्टेंट कमिश्नर बन कर जनपद का नाम किया रोशन
चित्र
असोथर के 45 शिक्षकों ने संकुल पद से दिया इस्तीफा, धरना प्रदर्शन करके सरकार विरोधी लगाए नारे
चित्र
छात्र शौर्य द्विवेदी ने कबाड़ी से बनाई इलेक्ट्रिक बाइक
चित्र
सरकारी राशन की दुकान बंद,धान लगा रहे कोटेदार, राशन लेने के लिए भटक रहे कार्ड धारक
चित्र