जिलाध्यक्ष केशव मणि के खिलाफ शिक्षकों ने विगुल फूंककर नियानुसार चुनाव कराने की किया मांग

 जिलाध्यक्ष केशव मणि के खिलाफ शिक्षकों ने विगुल फूंककर नियानुसार चुनाव कराने की किया मांग 



शिक्षकों ने जिलाध्यक्ष के उपर लगाया चंदे में घपलेबाजी, भ्रष्टाचार और तानाशाही का आरोप  


महराजगंज।उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षक संघ के जिला इकाई के चुनाव में हो रही अनियमितता के संबंध अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अखिलेश कुमार शुक्ला ने प्रदेश अध्यक्ष, माण्डलिक मंत्री एवं पर्यवेक्षक को पत्र भेजकर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष केशव मणि त्रिपाठी तथा जिला मंत्री सत्येन्द्र कुमार मिश्र की पुरजोर शिकायत की है। उनका कहना है कि संगठन का चुनाव संविधान के अनुरूप नहीं कराया जा रहा है। संगठन में जिलाध्यक्ष केशव मणि तथा जिला मंत्री सत्येन्द्र कुमार मिश्र कू मनमानी चरम पर है। उन्होने आरोप लगते हुए कहा कि उक्त दोनों वर्तमान पदाधिकारियों द्वारा अन्य शिक्षकों को प्रत्याशी भी बनने का अवसर नहीं दिया जा रहा है। आनन फानन में चुनाव की औपचारिकता पूर्ण करने का प्रयास किया जा रहा है। जिससे कि अपने ही लोगों को चुनाव में प्रतिभाग करवा कर निर्विरोध निर्वाचन होकर संगठन के संविधान की धज्जियां उड़ाई जा सके।

अध्यक्ष पद के प्रत्याशी अखिलेश कुमार शुक्ला ने आरोप लगाया है कि अभी तक मतदाता सूची प्रकाशित नहीं की गई है और 26 जून को चुनाव कराने का प्रयास किया जा रहा है। उनका कहना है कि पिछली बार भी जिले का चुनाव नहीं कराया गया था। अवैध रूप से जिले स्तर पर उक्त दोनों पदाधिकारी काबिज होकर संगठन के नाम पर शिक्षको से चन्दा उगाही कर रहे है। श्री शुक्ला ने मांग किया है कि संगठन के लिखित संविधान के अनुरूप मतदाता सूची का प्रकाशन किया जाए और उसके कम से कम 1 माह के बाद ही चुनाव कराया जाए जिससे कि अन्य प्रत्याशी भी अपना प्रचार प्रसार कर सकें और सांगठनिक लोकतंत्र की रक्षा हो सके। संगठन के संविधान की व्यवस्था के अनुरूप चुनाव से 1 माह पूर्व मतदाता सूची प्रकाशित करना अनिवार्य होता है। उक्त के संबंध में आज जिले के विभिन्न ब्लाकों से एकत्रित हुए शिक्षकों की बैठक फरेन्दा में आयोजित हुई ।उपस्थित शिक्षकों ने  तत्काल प्रभाव से चुनाव तिथि परिवर्तित करने हेतु प्रदेश कार्यकारिणी को इस अनियमितता से अवगत कराया और स्वस्थ व लोकतांत्रिक तरीके से चुनाव सम्पन्न कराने हेतु  अगली तिथि निर्धारित करने की मांग की है। शिक्षकों का कहना है कि ग्रीष्मावकाश में चुनाव कराना, जब अधिकतम शिक्षक जिले से बाहर हैं चुनाव की निष्पक्षता पर स्वयं ही प्रश्नचिन्ह खड़ा करता है।

इस अवसर पर अभय कुमार, रमेश प्रसाद, अर्जुन सिंह, प्रकाश पटेल, रामजन्म विश्वकर्मा, राजू सिंह सैथवार सहित सैकड़ों की संख्या में शिक्षक उपस्थित रहकर वर्तमान संगठनात्मक पदाधिकारियों के तानाशाही और भ्रष्ट रवैये के विरूद्ध नियमानुसार चुनाव करवाने की मांग किया।

टिप्पणियाँ