यूपी 112 टीम ने सड़क सुरक्षा के बताये उपाय
यूपी 112 टीम ने सड़क सुरक्षा के बताये उपाय


नागरिकों को पुलिस विभाग की विभिन्न सेवाओं की दी जानकारी,

बाँदा - यूपी-112 द्वारा जनपद चित्रकूट और बाँदा में जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है।  नागरिकों को पुलिस विभाग की विभिन्न सेवाओं से अवगत कराया।
लखनऊ से आयीं टीम ने एलईडी वैन पर 112 के सेवाओं की लघु फ़िल्मों के माध्यम से बताया कि सेवाओं का लाभ कैसे लिया जा सकता है। नवरात्री व दशहरे के अवसर पर एडीजी-यूपी112 श्री अशोक कुमार सिंह के दिशा निर्देशन तथा पुलिस अधीक्षक बांदा अंकुर अग्रवाल के नेतृत्व में सात दिवसीय विशेष जागरूकता कार्यक्रम के प्रथम दिन अभियान के क्रम में बुजुर्गों और महिलाओं को सामाजिक सुरक्षा प्रदान करने के लिए यूपी-112 द्वारा विशेष योजनाएँ चलायी जा रही हैं । लखनऊ से आई यूपी 112 टीम ने बताया कि घरेलू हिंसा व मारपीट के अलावा किसी भी आपात स्थिति जैसे आग लगने, प्राकृतिक आपदा, मेडिकल इमरजेंसी में भी 112  नंबर डायल किया जा सकता है। अभियान के दौरान लोकगीतों के माध्यम से कलाकार बुजुर्गों के लिए सवेरा योजना, महिलाओं के लिए प्रबल प्रतिक्रिया और अकेली घर आने-जाने वाली महिलाओं को रात्रि में पीआरवी की मदद के संबंध में जानकारी दी गयी । सड़क सुरक्षा के प्रति जागरूकता अभियान के दौरान टीम ने बताया कि आज के समय मे सड़क दुर्घटनाओं की संख्या काफी बढ़ गयी है और इस समस्या का कोई एक कारण नही है वास्तव में ऐसे कई सारे कारण है। जो सड़क दुर्घटनाओं को बढ़ावा देने का कार्य करते हैं जैसे - यातायात नियमों की जानकारी न होना, वाहन चलाते समय सुरक्षा व सावधानियां न बरतना आदि। उन्होंने बताया कि दिन-प्रतिदिन बढ़ती वाहनों की संख्या को देखते हुए। अब यह आवश्यक हो चुका है कि हम सड़क सुरक्षा से जुड़े मानकों को अनिवार्य रुप से अपनायें क्योंकि मात्र इसी के द्वारा ही सड़क दुर्घटनाओं में कमी लायी जा सकती है।
यूपी 112 टीम ने सड़क सुरक्षा के उपाय भी बताए …
1- सड़क पर चलने वाले सभी को अपने बाँये तरफ होके चलना चाहिये खासतौर से चालक को और दूसरी तरफ से आ रहे वाहन को जाने देना चाहिये।
2- चालक को सड़क पर गाड़ी घुमाते समय गति धीमी रखनी चाहिये।
3- अधिक व्यस्त सड़कों और रोड जंक्शन पर चलते समय ज्यादा सावधानी बरतें।
4- दोपहिया वाहन चालकों को अच्छी गुणवत्ता वाले हेलमेट पहनने चाहिये नहीं तो उन्हें बिना हेलमेट के रोड पर नहीं आना चाहिये।
5- गाड़ी की गति निर्धारित सीमा तक ही रखें खासतौर से स्कूल, हॉस्पिटल, कॉलोनी आदि क्षेत्रों में।
6- सभी वाहनों को दूसरे वाहनों से निश्चित दूरी बनाकर रखनी चाहिये।
7- सड़कों पर चलने वाले सभी लोगों को रोड पर बने निशान और नियमों की अच्छे से जानकारी हो।
8- यात्रा के दौरान सड़क सुरक्षा के नियम-कानूनों को दिमाग में रखे|
9- माल ढुलाई में प्रयोग होने वाले वाहनों से कभी यात्रा न करें।
ग्रामीण क्षेत्र के नागरिको को 112 की सेवा लेने में किसी तरह संवाद सम्बन्धी समस्या न आए इस बात को ध्यान में रखते हुए मुख्यालय में बैठने वाली संवाद अधिकारी क्षेत्रीय भाषा में भी संवाद करने में पारंगत हैं । मुख्यालय में बैठने वाली संवाद अधिकारी खड़ी बोली के अलावा ब्रज, भोजपुरी, बुंदेली आदि भाषाओं में नागरिकों से संवाद करने में सक्षम है । ताकि नागरिक अपनी समस्या बताने में सहज महसूस कर सकें । यह जागरूकता अभियान जनपद चित्रकूट में सीताराम समर्पण महविद्यालय नरैनी से प्रारम्भ हुआ. इसके बाद नंदना ग्राम, महुआ आदि स्थानों पर जागरूकता अभियान चलाया गया । इस मौके पर यूपी- 112 मुख्यालय से अपर पुलिस अधीक्षक श्री लक्ष्मी निवास मिश्रा, निरीक्षक अर्जुन सिंह, आदि मौजूद रहे ।
टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
पत्नी के नाम खरीदी प्रॉपर्टी पर परिवार का भी हक, मकान-जमीन रजिस्ट्री कराने से पहले जान लें HC का फैसला
चित्र