किसान भाई तिलहनी फसलों में माहू कीट रोग से बचायें

 किसान भाई तिलहनी फसलों में माहू कीट रोग से बचायें



बाँदा - जिला कृषि रक्षा अधिकारी बांदा डॉ0 प्रमोद कुमार ने बताया है कि किसान भाईयों को सूचित किया जाता है कि इस समय तापमान में परिवर्तन व बदली रहने की स्थिति में तिलहनी फसल सरसों, अलसी में माहू कीट के प्रकोप की सम्भावना रहती है इसके लिए किसान भाईयों से अपील है कि वे अपने खेतों की नियमित निगरानी करते रहें। तिलहनी फसल सरसों, अलसी में माहू कीट के नियंत्रण हेतु इमिडाक्लोरपिड 17.8 प्रतिशत एस०एल० एंव क्लोरोपाइरीफास 20 प्रतिशत जनपद के समस्त विकासखण्ड में स्थित कृषि रक्षा इकाईयों पर उपलब्ध है, योजना का लाभ पहले आओ पहले पाओ के आधार पर ही मिलेगा। उक्त रसायन की मात्रा 500 से 600 मिली0 प्रति एकड़ 250-300 लीटर पानी में घोलकर छिड़काव करें। कृषक भाई उक्त रसायन को क्रय करते है तो उनको उक्त रसायन पर 50 प्रतिशत की छूट डी०बी०टी० के माध्यम से कृषक के खातें में भेज दिया जायेगा।

अतः कृषक भाईयों से अनुरोध है कि उक्त रसायन का प्रयोग माहू कीट के नियंत्रण हेतु समय से करते हुये अधिक से अधिक उत्पादन लें और योजना का लाभ उठायें। उक्त रसायन को क्रय करते समय अपने साथ किसान भाई अपने साथ पंजीयन नम्बर, आधार कार्ड, बैंक पास बुक, एंव खतौनी की छायाप्रति अवश्य लायें। इसमें किसी भी प्रकार की समस्या होने पर जिला कृषि रक्षा अधिकारी, बाँदा एंव अपने ब्लॉक में स्थित कृषि रक्षा इकाई के प्रभारियों को अवगत करायें।

कृषक भाईयों इनमें से किसी भी कीट / रोग की सम्भावना दिखे तो तत्काल कृषि विभाग के कर्मचारी /अधिकारी से सम्पर्क कर तत्काल कीट / रोग का निदान कर अपनी फसल को सुरक्षा प्रदान करें या किसान भाई अपनी फसल में कीट / रोग समस्या के निदान हेतु कृषि विभाग में अपना पंजीकरण नम्बर अथवा अपना नाम, ग्राम का नाम, विकास खण्ड, जनपद का नाम लिखते हुये मो० न० 9452247111 एंव 9452257111 पर SMS/WhatsApp भेजकर 48 घण्टे में समस्या का निदान पा सकते है।

टिप्पणियाँ
Popular posts
यूपीएससी में हुआ किसान के बेटे का चयन,किया गांव का नाम रोशन
चित्र
डॉ0 भीमराव आंबेडकर राजकीय महिला स्नातकोत्तर महाविद्यालय फतेहपुर के 34वें वार्षिक कीड़ा समारोह के उद्घाटन दिवस पर प्रतियोगिताएं हुई संपन्न
चित्र
नरेंद्र हत्याकांड में पिता पुत्र को पुलिस ने किया गिरफ्तार
चित्र
कांग्रेस छोड़कर भाजपा में शामिल हुए विभाकर शास्त्री का हुआ जोरदार स्वागत .
चित्र
खनन माफिया सक्रिय, एनजीटी के नियमों को ताक पर रखकर हो रहा मौरंग का अवैध खनन
चित्र