कृषि नीति को बढ़ावा देने के लिए हितधारकों की क्षमता निर्माण हेतु कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न

 कृषि नीति को बढ़ावा देने के लिए हितधारकों की क्षमता निर्माण हेतु कलेक्ट्रेट सभागार में जिलाधिकारी की अध्यक्षता में बैठक संपन्न



फतेहपुर।उत्तर प्रदेश कृषि निर्यात नीति–2019 के अंतर्गत कृषि निर्यात को बढ़ावा देने एवं प्रगतिशील कृषको/एफ0पी0ओ0/एफ0पी0सी0/एन0जी0ओ0 एवं अन्य हितधारको की क्षमता निर्माण हेतु कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में जिलाधिकारी श्रीमती सी.इंदुमती की अध्यक्षता में संपन्न हुई। उन्होंने शासन की मंशानुरूप कृषि उत्पाद के निर्यात को दोगुना करने के दृष्टिगत जिला क्लस्टर सुविधा इकाई के द्वारा जनपद में अमौली ब्लाक में हरीमिर्च एवं केला के लिए भिटौरा ब्लाक के किसानों/एफ०पी०ओ० को चिन्हित करते हुए क्लस्टर बनाकर कृषि निर्यात कराये जाने के निर्देश दिये, साथ ही जिला उद्यान अधिकारी एवं उपनिदेशक कृषि को निर्देशित किया कि  उक्त ब्लाकों में गोष्ठी/जागरूकता शिविर का आयोजन किया जाय जिससे किसान जागरूक होकर अपनी आय बढ़ा सके । 

बैठक में मलवां के पेडे के जी०आई० (भौगोलिक उपदर्शन) में पंजीकरण कराने की प्रगति पर चर्चा की गई जिसमें पद्यम  डा०रजनी कान्त द्विवेदी, जी०आई विशेषज्ञ द्वारा वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से प्रतिभाग किया गया और पेडा उत्पादकों की सोसाईटी बनाते हुए आवेदन की प्रकिया को पूर्ण कराने संबन्धी जानकारी दी गई। इस संबन्ध में जिलाधिकारी ने  उपायुक्त उद्योग एवं उद्ययम प्रोत्साहन केन्द्र को दुग्ध विभाग के अधिकारियों से समन्वय कर आवेदन कराने की प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिये ।

जिलाधिकारी ने जनपद में स्थापित खाद्य प्रसंस्करण इकाईयों को निर्यातक के रूप में विकसित करने हेतु कृषि निर्यात की प्रकिया और आवश्यक प्रपत्रों की जानकारी उपलब्ध कराने हेतु कृषि विपणन एवं कृषि विदेश व्यापार विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया । 

जनपद में कृषि निर्यात को बढ़ावा देने हेतु उत्पादों की गुणवत्ता परीक्षण करने की व्यवस्था के लिए मनोज कुमार गांधी, निदेशक, मै० बहिरामपुर प्रोडियूसर कं०लि० ने जनपद में एक एन०ए०वी०एल० प्रयोगशाला की मांग रखी गई, जिसके लिए जिलाधिकारी ने पूर्व में भेजे गये प्रस्ताव में अतिशीघ्रता लाते हुए स्थापित कराने हेतु आवश्यक कार्यवाही के निर्देश संबंधित को दिये। उन्होंने जनपद में मण्डी समितियों के ऐसे लाईसेंसधारी जो मण्डी के नियमों के विपरीत जाकर मण्डी प्रागंण के बाहर अवैध रूप से व्यापार एवं किसानों से सीधा खरीद कर रहें हैं, उनको चिन्हित कर आवश्यक कार्यवाही कराने हेतु ज्येष्ठ कृषि विपणन निरीक्षक को  निर्देश दिए ।

ज्येष्ठ कृषि विपणन निरीक्षक / सदस्य सचिव जिला क्लस्टर सुविधा इकाई जनपद फतेहपुर  विनोद कुमार द्वारा विगत बैठक में लिए गये निर्णय एवं उनके कियन्वायन की स्थिति से अवगत कराया गया एवं कृषि निर्यात नीति 2019 के अन्तर्गत की गई व्यवस्था पर संक्षित्प परिचय दिया गया।

इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी पवन कुमार मीना, उपायुक्त उद्योग चन्द्रभान सिंह,  उपनिदेशक कृषि राम मिलन परिहार, मुख्य पशु चिकित्साधिकारी नवल किशोर सचान, जिला उद्यान अधिकारी डा०रमेश पाठक, डी०डी०एम० नाबार्ड प्रशून चन्द्र, सहायक निदेशक मत्यस्य जी०सी०यादव, मण्डी सचिव फतेहपुर सालिक राम, ए०के० तोमर, नितेश कुमार साहू मनीष प्रताप सिंह, कृषि विपणन निरीक्षक, बिन्दकी, उदित नारायण, कृषि विपणन निरीक्षक, खागा, हिमांशु तिवारी कृषि विपणन निरीक्षक, फतेहपुर आदि उपस्थित रहे।O

टिप्पणियाँ
Popular posts
वर्षा/ ओलावृष्टि के कारण भेडो में मची भगदड़ के चलते 167 भेडो की मौत जबकि 16 भेडे घायल
चित्र
पत्नी द्वारा लगाए गए आरोप को पति ने बताया मनगढ़ंत कहानी
चित्र
व्यापारी के साथ हुई मारपीट कांड की डीसीपी ने की जांच पडताल
चित्र
अवैध कब्जेदार ने निर्देश के बाद भी कब्जा न हटाया तो राजस्व विभाग ने चलाया बुलडोजर
चित्र
बेटे ने पहले कराया माता पिता का जीवन बीमा फिर बीमा की रकम के लिए माँ की गला घोंटकर हत्या,पिता के तहरीर पर पुत्र के खिलाफ मुकदमा दर्ज
चित्र