हिंदू - मुस्लिम एकता का प्रतीक हजरत काले शहीद बाबा का दरबार, मनाया गया 45वा उर्स दिवस

 हिंदू - मुस्लिम एकता का प्रतीक हजरत काले शहीद बाबा का दरबार, मनाया गया 45वा उर्स दिवस



बांदा - तिंदवारी कस्बे में विख्यात हिंदू - मुस्लिम एकता का प्रतीक हजरत काले शहीद बाबा के दरबार में हजारों दर्शनार्थी जाते हैं और दुआएं मांगते है, इसी के अंतर्गत उर्स कमेटी तथा आस्था रखने वालों ने गागर चादर कार्यक्रम का आयोजन किया।


उर्स कमेटी के अध्यक्ष मोहम्मद शाबीर ने जानकारी देते हुए बताया कि तिंदवारी कस्बे में हजरत काले शहीद बाबा का दरबार हिंदू - मुस्लिम एकता का प्रतीक है और यहां पर हिंदू - मुस्लिम भाइयों में कोई भेद नहीं है। सभी लोग यहां पर आते हैं और अपनी मनोकामनाएं मांगते हैं और हजरत काले शहीद बाबा के आशीर्वाद से उन सभी की मनोकामनाएं पूरी होती हैं।


वहीं कमेटी के अध्यक्ष ने बताया कि उर्स दिवस के उपलक्ष्य में गागर चादर नगर भ्रमण किया गया है तथा आज 45वा उर्स दिवस मनाया जा रहा है तथा इसी के अंतर्गत जवाबी कव्वालियों का भी कार्यक्रम रखा गया है जिसमे बाहर से कलाकार बुलाए गए हैं और इस कार्यक्रम में सभी क्षेत्रवासी और नगरवासी आमंत्रित हैं।

टिप्पणियाँ
Popular posts
रोड को लेकर अब तक जनपद में कई जगहों पर हुआ सांसद का विरोध
चित्र
बडौरी टोल प्लाजा में अधिवक्ता के साथ हुई लूट के साथ गुंडई करते हुए जान से मारने की धमकी दी
चित्र
सरकार बनने पर बुंदेलखंड को अलग राज्य बनाया जाएगा - मायावती
चित्र
भाजपा अल्पसंख्यक मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष 49 लोकसभा प्रत्याशी दीदी साध्वी निरंजन ज्योति के पक्ष में वोट करने की किया अपील
चित्र
पीएम मोदी बोले- कांग्रेस-सपा चारों खाने चित्त हो गई है: कांग्रेस ने इज्जत बचाने के लिए मिशन-50 सीट रखा
चित्र