अवैध खनन को लेकर उपजिलाधिकारी ने अधिकारियों व पुलिस विभाग के पेंच कसे

अवैध खनन को लेकर उपजिलाधिकारी ने अधिकारियों व पुलिस विभाग के पेंच कसे


बिन्दकी में उपजिलाधिकारी पद पर प्रथम महिला अधिकारी प्रियंका सिंह


आतिशबाजी की दूकानों को लेकर जारी की गाइडलाइंस


पराली जली तो लेखपाल,ग्राम प्रधान व चौकीदारों के खिलाफ होगी कार्रवाई


बिंदकी (फतेहपुर)। बिंदकी तहसील में प्रथम महिला उपजिलाधिकारी ने आज स्थानीय सभागार में एक बैठक कर अवैध खनन ,पराली जलाने व आतिशबाजी की दुकानों को लेकर विस्तार से कर्मचारियों के साथ विचार विमर्श किया।
उपजिलाधिकारी बिन्दकी प्रियंका सिंह ने कहा कि किसी भी दशा में किसानों को पराली जलाने की अनुमति नहीं दी जानी चाहिए। इसके लिए प्रशासन पूरी तरह से सचेत है साथ ही सेटेलाइट के जरिए इसकी निगरानी कर रहा है।
उन्होंने कहा कि तहसील के समस्त लेखपाल व कर्मचारी पराली न जलने पाए इसके लिए बराबर अपनी निगाह बनाए रखें।
श्रीमती प्रियंका सिंह ने कहा कि यदि किसी क्षेत्र में पराली जलाने की घटना प्रकाश में आई तो उस क्षेत्र के लेखपाल ,ग्राम प्रधान व चौकीदारों पर कार्रवाई की जा सकती है ।
उन्होंने किसानों को भी चेताया कि वे अपने खेतों में फसलों के अवशेष व पराली न जलाएं। अगर जलाते हैं तो उन्हें जेल भी जाना पड़ सकता है साथ में जुर्माना भी लगेगा।
मालूम हो कि जनपद में पराली जलाने वाले 4 8 किसानों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कराई गई है और उनसे जुर्माना वसूला गया है। उपजिलाधिकारी ने कर्मचारियों को संबोधित करते हुए कहा कि अवैध खनन की खबरें पराया सुर्खियों में रहती हैं। इसलिए इस पर विशेष निगरानी किए जाने की आवश्यकता है और किसी की दशा में खनन नहीं होना चाहिए। उपजिलाधिकारी ने दीपावली के त्यौहार को देखते हुए आतिशबाजी की दुकानों को लेकर भी अपना नजरिया साफ करते हुए कहा कि बिना अनुमति लिए कोई भी आतिशबाजी की दुकान नहीं लगेगी और हर दुकान में कम से कम 3 मीटर की दूरी होनी चाहिए साथ ही अग्निशमन की भी व्यवस्था होनी चाहिए। अगर ऐसा ना हुआ तो उनके आतिशबाजी का सामान जप्त करने के बाद उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने कहा कि आतिशबाजी की दुकानें के लिए एक जगह निश्चित की जाएगी। उसी निश्चित स्थान पर ही आतिशबाजी की दुकानें लगाई जा सकेंगे।
उन्होंने यह भी चेताया कि अगर आतिशबाजी को लेकर कोई अनहोनी होती है तो उसके लिए दुकानदार को ही पूरी तरह से जिनमें बात समझा जाएगा।
बैठक के दौरान उप जिलाधिकारी प्रियंका सिंह के साथ उप पुलिस अधीक्षक योगेंद्र सिंह मलिक, तहसीलदार सिद्धांत कुमार, बिंदकी सर्किल के सभी थाना प्रभारी निरीक्षक, खंड विकास अधिकारी ,नगर पालिका के कर्मचारी, लेखपाल मौजूद रहे।


Popular posts
योगी की नही विद्युत वितरण खंड प्रथम में चल रही है सपा मानसिकता के रामसनेही की सरकार
चित्र
14 साल की नाबालिग का थाने में हुआ प्रसव:
चित्र
भ्रष्ट अधिशासी अभियंता के रहते नहीं हो सकता है योगी सरकार का सपना साकार- तिवारी
चित्र
डीएम अपूर्वा दुबे का प्रयास लाया रंग, कोरोना केसों से मुक्त हुआ दोआबा – तीन दिनों से नया केस न मिलने से अफसरो ने ली राहत की सांस
चित्र
अगर आता है आपको भी बार-बार पेशाब, तो समझ लीजिए कि शरीर में पनप रही है ये बीमारियां
चित्र