घर के अंदर फांसी लगाकर जान देने का प्रयास करने वाली महिला की 6 दिन बाद इलाज के दौरान हुई मौत

घर के अंदर फांसी लगाकर जान देने का प्रयास करने वाली महिला की 6 दिन बाद इलाज के दौरान हुई मौत
------ परिजनों में मचा हड़कंप रो-रोकर हुए बेहाल
बिंदकी फतेहपुर
घरेलू कलह के चलते घर के अंदर फांसी लगाकर जान देने का प्रयास करने वाली महिला की 6 दिन बाद इलाज के दौरान कानपुर के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई महिला की मौत की सूचना मिलने के बाद परिजनों में हड़कंप मच गया परिजन रो-रोकर बेहाल हो रहे थे
          बताते चलें कि कोतवाली क्षेत्र के फिरोजपुर गांव में 6 दिन पहले घरेलू कलह के चलते अंकिता देवी उम्र 22 वर्ष पत्नी गुलाब ने घर के अंदर फांसी लगाकर जान देने का प्रयास किया था हालांकि परिजनों को आहट लगी तो आनन-फानन में परिजनों ने मिलकर महिला को फांसी के फंदे से बाहर निकाला और गंभीर हालत में सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती कराया था चिकित्सक ने महिला की हालत चिंताजनक देखते हुए प्राथमिक उपचार जिला अस्पताल रेफर कर दिया था जिला अस्पताल से महिला को हैलट कानपुर रिफर किया गया था जहां पर परिजनों ने कानपुर के एक निजी अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया था इलाज के दौरान छठवें दिन महिला की मौत हो गई महिला की मौत की जानकारी मिलते ही परिजनों में हड़कंप मच गया और रो-रोकर बेहाल हो रहे थे।