हस्कर गांव में विचित्र बीमारी के चलते आधा दर्जन से अधिक मौतें स्वास्थ्य विभाग कुम्भकर्णी नींद में

हस्कर गांव में विचित्र बीमारी के चलते आधा दर्जन से अधिक मौतें स्वास्थ्य विभाग कुम्भकर्णी नींद में


(न्यूज़)।कानपुर के भीतरगांव विकासखंड मैं विचित्र बुखार के चलते आधे दर्जन से अधिक लोगों की मृत्यु हो चुकी है परंतु स्वास्थ्य विभाग कुंभकर्णी नींद से नहीं जाग रहा है।
जानकारी के अनुसार भीतरगांव विकासखंड के हस्कर गांव में विचित्र बुखार के चलते लोग तेज बुखार में पेट दर्द से बेचैन हैं और कोई भी घर ऐसा नहीं है जिसमें मरीजों के लिए चारपाई न बिछी हो इस विचित्र बीमारी से आधा दर्जन से अधिक लोग असमय काल के गाल में समा चुके हैं और आधा सैकड़ा से अधिक लोग अपने घरों में चारपाई पकड़े हुए हैं कुछ का कानपुर में तो कुछ लोग स्थानीय स्तर पर अपना इलाज करा रहे हैं परंतु कुछ गरीब लोग विवश हैं और वह कहां जाएं उन्हें कुछ समझ में नहीं आ रहा है यहां तक की ग्राम प्रधान श्रीमती जानकी देवी पत्नी गौतम पाल भी बीमारी के चलते अशक्त हो चुकी हैं और चारपाई पकड़े हैं अंजू, श्याम बाबू, शालिनी, अमित, दिनेश, सोनकर, राज साहू, शांति देवी, राजेश, छोटे सोनकर, प्रिया, मनीष, संदीप, सोनम सोनकर, रूबी देवी, पप्पू, रेनू किशोर आदि लोगों ने बताया कि एक हफ्ते से बीमार हैं बुखार पेट दर्द से परेशान है कई बार स्वास्थ्य विभाग के जिम्मेदारों को सूचित किया जा चुका है परंतु उनके कान पर जूं तक नहीं रेंग रही है तेजतर्रार मुख्यमंत्री एवं जिलाधिकारी के सभी आदेशों को ताक पर रख दिया गया है कोई भी सुनने और देखने वाला नहीं है महामारी से मृतकों की संख्या रोज रोज बढ़ती जा रही हैं और जिम्मेदार कुम्भकर्णी नींद में सो रहे हैं।