सीएससी संचालकों ने अवैध वसूली के खिलाफ खोला मोर्चा

 


सीएससी संचालकों ने अवैध वसूली के खिलाफ खोला मोर्चा


फतेहपुर,जिले के कलेक्ट्रेट परिसर में आज जिले की सीएससी संचालकों की भीड़ देखने को मिली जिसमें साफ तौर पर सीएससी संचालकों का कहना था कि उनके पास जो ई डिस्ट्रिक्ट सर्विस है उसमें लगातार कंपनियों की तरफ से दबाव बनाकर रोजाना ₹15 की मांग की जा रही है जो कि अन्य जनपदों में नहीं है जिसके खिलाफ आज उन्होंने जिले के जिलाधिकारी से मुलाकात कर इस चार्ज को हटाने की बात कही है ।
 जिले के सीएससी संचालकों ने बताया कि जिले के समस्त भी को अवगत कराया गया है कि ई डिस्टिक सर्विस दिनांक 31 जुलाई 2020 को पत्रांक संख्या शाम में बटे 2020 21 निविदा निकाली गई थी जिसमें से दो डीएसपी को कॉन्ट्रैक्ट मिला है जिसमें श्री इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस लिमिटेड और वयम टेक्नोलॉजीज लिमिटेड है लेकिन चयनित दोनों डीएसपी द्वारा कॉन्ट्रैक्ट में निर्धारित शुल्क से कई गुना अधिक शुल्क वसूला जा रहा है जिसमें वयं टेक्नोलॉजीज लिमिटेड द्वारा ₹1000 रजिस्ट्रेशन चार्ज के साथ में ₹15 प्रतिदिन चार्ज जोड़ा गया है जिसमें VLE काम करे या ना करे ₹15 देना जरूरी है साथ ही साथ श्री इंफ्रास्ट्रक्चर फाइनेंस लिमिटेड ₹35 प्रतिवर्ष जोकि टेंडर में निर्धारित दर से कई गुना है लगा रखा है जिसे इसका असर सिर्फ VLE पर ही नहीं पड़ेगा बल्कि सीधे आम जनमानस पर भी पड़ेगा | 
   सभी सीएससी संचालकों ने जिलाधिकारी से डीएसपी द्वारा कॉन्ट्रैक्ट में निर्धारित शुल्क के अतिरिक्त शुल्क न वसूलने की बात कही है और आम जनमानस पर पढ़ने वाले बोझ को कम करने की भी अपील की है ।