World Toilet Day पर बोले पीएम मोदी, सभी के लिए शौचालय के संकल्प को और मजबूत करता है भारत

नई दिल्ली,भारत ने देश के करोड़ों लोगों को स्वच्छ शौचालय प्रदान करके अद्वितीय उपलब्धि हासिल की है। यह बात प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने विश्व शौचालय दिवस (World Toilet Day) पर कही है। वर्ल्ड टॉयलेट डे सभी के लिए सुरक्षित स्वच्छता सुलभ बनाने के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए विश्व स्तर पर मनाया जाता है।


पीएम मोदी ने कहा कि उनकी सरकार द्वारा चलाए गए 'स्वच्छ भारत' (Swacch Bharat) कार्यक्रम के तहत शौचालयों का निर्माण गरिमा के साथ महिलाओं समेत सभी के लिए जबरदस्त स्वास्थ्य लाभ लेकर आया है। उन्होंने ट्वीट करते हुए कहा, 'विश्व शौचालय दिवस पर, भारत #Toilet4All के अपने संकल्प को मजबूत करता है। पिछले कुछ वर्षों में करोड़ों भारतीयों को स्वच्छ शौचालय प्रदान करने की एक अनूठी उपलब्धि मिली है। इससे सभी को स्वास्थ्य लाभ मिला है विशेष रूप से हमारी नारी शक्ति को।'


स्वच्छ भारत अभियान


गौरतलब है कि मोदी सरकार द्वारा दो अक्टूबर, 2014 को गांधी जयंती के दिन स्वच्छ भारत अभियान की शुरूआत की गई थी। केंद्र ने इस  मिशन को दो भागों में बांटा है। पहले भाग में स्वच्छ भारत ग्रामीण है, इसके तहत गावों में हर घर में शौचालय बनाने और खुले में शौच मुक्त रखने का लक्ष्य रखा गया। दूसरे भाग में स्वच्छ भारत शहरी है। इसमें घरों के अलावा सार्वजनिक स्थानों पर भी शौचालय होने चाहिए, यह मिशन का लक्ष्य था। इसके अलावा कूड़ा-कचरा प्रबंधन पर भी मिशन में ज्यादा फोकस किया गया।



शौचालय दिवस मनाने की यह है वजह


दुनियाभर के सभी लोगों को 2030 तक शौचालय की सुविधा मुहैया करवाना संयुक्त राष्ट्र का लक्ष्य है। यह यूएन के छह सतत लक्ष्यों का हिस्सा है। इन लक्ष्यों के तहत विश्व के सभी लोगों को शुद्ध पेयजल और स्वच्छता की सुविधा उपलब्ध कराना भी शामिल है। साल 2001 में इस दिन को मनाने की शुरूआत हुई थी और संयुक्त राष्ट्र महासभा ने 2013 में इसे आधिकारिक तौर पर विश्व शौचालय दिवस घोषित कर दिया था।